ससुराली जनों ने मासूम व विवाहिता को घर से बाहर निकाला

हमीरपुर। मुख्यालय के अमन शहीद मोहल्ले में ससुरालीजनों ने विवाहिता को मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया। विवाहिता अपने मासूम बच्चे के साथ 2 दिन तक घर के बाहर बैठी रही किंतु ससुराली जनों को  उस पर जरा भी तरस नहीं आया। पीड़िता महिला ने महिला थाना अध्यक्ष को शिकायती  देकर ससुराली जनों पर कार्रवाई करने की मांग की है। महिला का कहना है कि उसकी आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं है कि वह किराए का मकान लेकर रह सके! नगर के अमन शहीद मोहल्ला निवासी आरती पत्नी राजेश महिला थाने में शिकायती  पत्र देकर बताया कि 9 वर्ष पूर्व उसकी शादी राजेश पुत्र छोटेलाल निवासी अमन शहीद थाना कोतवाली के साथ हिंदू रीति रिवाज के अनुसार हुई थी ।उसने बताया कि शादी के कुछ दिन तक सब कुछ ठीक रहा किंतु उसके पश्चात ससुराली जन उसके ससुर छोटेलाल जो एक सेवानिवृत्त कर्मचारी हैं व सास विमला उकजाने पर उत्पीड़न शुरू हो गया! आरती ने बताया कि वह एक बेटे की मां भी बन चुकी है बेटा होने के बाद ससुराली जनों का उत्पीड़न और भी बढ़ गया 2 दिन पूर्व ससुराली जनों ने उसे मारपीट कर बच्चे के साथ घर से बाहर निकाल दिया! 2 दिन से वह अपने ससुराल के मकान के बाहर दरवाजे में बैठी रही किंतु ससुराली जनों को उस पर व उसके मासूम बच्चे पर दया नहीं आई! महिला ने बताया कि सास  व ससुर के उत्पीड़न से वह आजिज आ चुकी है। महिला ने बताया कि उसके ससुर स्वास्थ्य विभाग के सेवानिवृत्त कर्मचारी हैं! और शराब पीने के आदी हैं! उसने बताया कि वह शराब पीने के बाद वह आए दिन घर में हंगामा करते हैं । महिला ने कहा कि उनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है कि वह किराए के मकान में रह सके महिला ने अपनी ससुराल के मकान में रहने की जगह दिलाए जाने की मांग की। केंद्र व प्रदेश की सरकार महिला सशक्तिकरण के बड़े-बड़े दावे करती है किंतु एक पीड़ित महिला न्याय के लिए आज भी दर-दर भटक रही है! पीड़ित महिला आरती के प्रकरण की जानकारी भाजपा महिला मोर्चा की क्षेत्रीय उपाध्यक्ष शकुंतला निषाद व नीलम बाजपेई को जब इसकी जानकारी हुई तो वह पीड़ित महिला से मिलने के लिए उसके ससुराली जनों से वार्ता करने के लिए उसके घर पहुंची! किंतु ससुरालीजनों ने महिला मोर्चा के पदाधिकारियों से कोई बातचीत नहीं की! महिला मोर्चा की पदाधिकारियों ने पीड़िता को न्याय दिलाने का संकल्प जताया है।