एनजीटी ने गुरुग्राम नगर निगम को पालम विहार में अवैध कब्जे के विरुद्ध कार्रवाई का निर्देश दिया

नई दिल्ली : राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने गुरुग्राम नगर निगम को एक याचिका पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है, जिसमें पालम विहार में सड़क के दोनों तरफ हरित पट्टी पर कथित तौर पर अवैध कब्जे का आरोप लगाया गया है। एनजीटी के अध्यक्ष न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल ने कहा कि अधिकरण ने पहले ही पेड़ों के चारों ओर एक मीटर की परिधि के अंदर से कंक्रीट हटाने का निर्देश दिया था, ताकि पेड़ों की वृद्धि एवं विकास बाधित नहीं हो।पीठ ने कहा, “हमने गुरुग्राम नगर निगम को गुरुग्राम वन विभाग के साथ मिलकर उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। इस संबंध में एक महीने में एक संयुक्त बैठक की जाए और कार्ययोजना बनाई जाए। इसके बाद, कानून के मुताबिक आगे की कार्रवाई की जाये।”अधिकरण, हरियाणा निवासी विनीत कुमार यादव की याचिका पर सुनवाई कर रहा था। यादव ने गुरुग्राम के पालम विहार क्षेत्र में सड़क के दोनों तरफ तथा मकानों और भूखंड के पास अवैध कब्जे के खिलाफ एक याचिका दायर की थी। याचिका में यह भी कहा गया था कि एनजीटी के 2013 के आदेश का उल्लंघन करते हुए क्षेत्र में पेड़ों के चारों तरफ कंक्रीट डाल दिय गये।