हाथों-पैरों के दर्द से आराम दिलाएंगे ये योगासन, मिलेंगे और भी कई लाभ

बदलते मौसम में बीमारियों की चपेट में आने का खतरा रहने के साथ हाथों-पैरों में दर्द की शिकायत भी होती है। वहीं यह दर्द युवा से लेकर बुजुर्ग किसी को भी हो सकता है। ऐसे में इससे छुटकारा पाने के लिए डेली रूटीन में योगा का अभ्यास करना बेस्ट ऑप्शन है। इससे हड्डियों में मजबूती आती है। ऐसे में हाथों व पैरों में होने वाले दर्द से आराम मिलता है। चलिए जानते हैं इन योगासन को करने का तरीका व अन्य फायदे...

- नौकासन

. इस आसन में शरीर की मुद्रा नाव की तरह होती है।

. सबसे पहले खुली जगह पर मैट बिछाकर पीठ के बल ले जाएं।

. दोनों पैरों को एक साथ जोड़ें।

. हाथों को जमीन से जोर से रखें।

. गहरी सांस लेते हुए धीरे-धीरे गर्दन को ऊपर की ओर उठाएं।

. अपने हाथों व पैरों को ऊपर की ओर उठाकर नौका यानि नाव का रूप लें।

. अपने हाथों से पैरों को छूने की कोशिश करें।

. इस मुद्रा में करीब 25 से 30 सेकेंड तक रहे।

. बाद में सामान्य मुद्रा में आ जाएं।

इस आसन को करने से शरीर में रिलैक्स महसूस होता है। हाथों और पैरों में खींचाव होने इनमें मजबूती आती है।

- भुजंगासन

. इस आसन को करने के लिए जमीन पर मैट बिछाकर पेट के बल लेट जाएं।

. अब हाथों को जमीन पर रखकर धड़ को ऊपर की ओर उठाएं।

. शरीर का सारा भारा बाजूओं पर रखें।

. पैरों को उंगलियों के बल पर टिकाएं।

. पीठ को अपनी क्षमता के मुताबिक मोड़कर गर्दन को पीछे की ओर झुकाएं।

. इस अवस्था में रहकर 3-5 बार गहरी सांस अंदर लें और बाहर की ओर छोड़ें।

. 30 से 60 सेकेंड या अपनी क्षमता के मुताबिक कुछ देर इसी मुद्रा में रहें।

. बाद में धीरे से सामान्य अवस्था में आ जाएं।

. इस आसन को 4-5 बार दोहराएं।

इससे हाथों व पैरों में लचीलापन बढ़ेगा। साथ ही इनमें मजबूती आएगी। हड्डियां मजबूत होने से इनमें दर्द की शिकायत कम होगी।

इन योगासन को करने के अन्य फायदे

. हाथों व पैरों के दर्द से आराम मिलेगा।

. मांसपेशियों व हड्डियों में मजबती आने से बेहतर शारीरिक विकास में मदद मिलेगी।

. इससे इम्यूनिटी बढ़ेगी। ऐसे में बीमारियों की चपेट में आने का खतरा कम रहेगा।

. हाथों व पैरों में लचीलापन बढ़ेगा।

. पाचन शक्ति में सुधार होगा।

. छाती, फेफड़ों व कंधों में खींचाव होने से इनमें मजबूती आएगी। ऐसे में सांस संबंधी समस्याओं से आराम मिलेगा।

. इस योगासन को करने से शरीर में हल्का महसूस होगा। ऐसे में तनाव कम होने में मदद मिलेगी।

. इससे शरीर में जमा एक्सट्रा चर्बी कम होकर वजन कंट्रोल रहने में मदद मिलेगी।

posted by - दीपिका पाठक