वर्षों से पात्र होते हुए भी आवास से वंचित लगाया डीएम से गुहार

 झिलाही बाजार/गोंडा । उ०प्र०सरकार व जिला प्रशासन लाख कोशिश करले पर भ्रष्टाचारी  अपने रवाइए से बाज आने वाले नहीं हैं और तो और जहां पर दो दो माननीय हो उस क्षेत्र में भी अगर अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा गरीब व पीड़ितों को न्याय व सरकार की योजनाओं का लाभ न मिलना उसके लिए पीड़ितों को जिले के आला अधिकारियों के पास जाकर गुहार लगाना पड़े तो इससे बड़ा और क्या बिडम्बना होगामामला विकास खंड नवाबगंज गोंडा के ग्राम सभा दुल्लापुर का है जहां की रहने वाली सबिता देवी पत्नी मुन्ना निषाद का हैं वर्षों से आवास विहिन इस महिला का नाम पात्रता सूची में 137 न०पर शामिल था जियो टैगिंग भी हुआ पर गरीबी आगे आ गई और भेंट न दे पाने के वजह से अपात्र हो गई। डीएम गोंडा व सी,डी,ओ, गोंडा को दिये प्रार्थना पत्र में उसने बताया कि उसके पास तीन छोटे छोटे बच्चे, एक किता छप्पर का घर,पांच बिस्वा जमीन, अन्तोदय कार्ड व मनरेगा जॉब कार्ड के अलावा और कुछ नहीं है न्याय की गुहार लगाई है और आवास दिलाने की मांग की है उसने बताया कि उसके गांव में इस तरह अभी आधा दर्जन से अधिक लोगों को गरीबी के कारण सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना से लोग वंचित हैं।