शिमला में तेंदुए ने घर से उठाई बच्ची को उतारा मौत के घाट

शिमला : हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के कनलोग से नरभक्षी तेंदुए ने घर से उठाई 7 साल की मासूम बच्ची को मौत के घाट उतार दिया है। बच्ची का सिर बरामद हो गया है। तेंदुए ने बच्ची के सिर को बुरी तरीके से नोच रखा है। बच्ची का सिर घर से लगभग 500 मीटर दूरी पर कनलोग के घने जंगल में बरामद हुआ है। तेंदुआ बृहस्पतिवार देर रात कनलोग में कच्चे ढारे (घर) में घुसकर 8 साल की बच्ची को उठाकर ले गया था। वन्य प्राणी विभाग के शीर्ष अधिकारियों ने मौके का जायजा लिया। पीडि़त परिवार बिहार का रहने वाला है। तेंदुआ अंधेरे का फायदा उठाकर बच्ची पर झपटा और जंगल की तरफ ले गया। जैसे ही परिजनों ने चिल्लाना शुरू किया तो स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी। पुलिस व वन विभाग की टीम ने देर रात से ही सर्च ऑपरेशन चलाया हुआ था। लेकिन बच्ची का कहीं कोई पता नहीं चल रहा था। आखिरकार सुबह बच्ची का सिर बरामद हो गया है। अभी तक बच्ची के सिर के अलावा शरीर का अन्य कोई हिस्सा बरामद नहीं हुआ है। पुलिस और वन विभाग की टीम सर्च ऑपरेशन चलाए हुए है और खूंखार तेंदुए को पकड़ने के लिए एक पिंजरा भी लगा दिया है।