डाक विभाग ने रविवार को भी पहुँचाई राखी, खिले चेहरे

 रायबरेली। किसी भाई की कलाई राखी के बिना खाली न रहे इसकेे लिए रायबरेली मण्डल के सभी डाकघर रविवार को छुट्टी के दिन खोले गए एवं विशेष व्यवस्था के अंतर्गत सभी भाइयों को उनकी बहनों द्वारा प्रेषित प्रेम उनके द्वार पर राखी पत्रों के रूप में पहुंचाया गया। 

डाकघर अधीक्षक अशोक बहादुर सिंह ने बताया कि रक्षाबंधन का त्योहार भाई बहन के प्रेम का प्रतीक है जिसमे बहनें भाइयों की कलाई में रक्षा सूत्र बाँध कर अपनी रक्षा का वचन लेती हैं एवं उनकी दीर्घ आयु की कामना करती हैं इसलिए बहनों के द्वारा प्रेषित राखी पत्रों को समय से पहुँचाने हेतु डाक विभाग एवं रायबरेली मण्डल के समस्त कर्मचारी पूर्ण रूप से समर्पित हैं। उन्होने यह भी अवगत कराया कि इस कार्य की निगरानी हेतु मंडलीय कार्यालय में उनके निर्देशन में मोनिटरिंग टीम तैनात की गयी एवं राखी पत्रों का वितरण पूरे दिन किया गया जिससे सभी राखी पत्रों का वितरण सुनिश्चित किया जा सके। रायबरेली मण्डल के विभिन्न डाकघरों द्वारा सभी 729 पंजीकृत एवं 472 साधारण राखी पत्रों का वितरण किया गया। डाक विभाग की रविवार के दिन डाक वितरण की इस पहल से सभी नगरवासी प्रसन्न दिखे।

 रायबरेली के बजरंगनगर क्षेत्र के निवासी दुर्गेश का कहना है कि शनिवार तक राखी ना आने से वे निराश थे परंतु जब रविवार को पोस्टमैन उनके घर डाक लेकर पहुंचा तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं था। उन्होने नहीं सोचा था कि छुट्टी के दिन भी उनकी राखी उन तक पहुंचेगी। उन्होने डाक विभाग की इस पहल की सराहना करते हुये डाक विभाग को धन्यवाद दिया।