सोते समय क्या आपको भी लगते हैं झटके? जानिए इसका कारण

क्या आप भी रात को सोते समय अचानक झटके महसूस करते हैं? क्या आपका शरीर अचानक हिल जाता है? सोत हुए क्या आपको गिरने का एहसास होता है। वैज्ञानिक इस घटना को हाइपनिक जर्क कहते हैं, जहां लोग विभिन्न कारणों से अचानक उठ जाते हैं। कुछ लोगों को लगता है कि वे बहुत ऊंचाई से गिर रहे हैं, जबकि अन्य लोगों को ऐसा लगता है जैसे कोई सोते समय गला घोंटने की कोशिश कर रहा है। हालांकि स्थितियां अलग हैं, हर कोई अचानक झटके से जाग जाता है।

सोते समय क्यों लगते हैं झटके?

रिसर्च के अनुसार दुनिया भर में 70 प्रतिशत लोग इस स्थिति को जरूर महसूस करते हैं। यह एक दिमागी रिएक्शन है, जिसमें दिमाग की नसों में संकुचन होता है और आप संभल भी नहीं पाते। आमतौर पर ऐसा तब होता है जब थकान के कारण आप सो नहीं पाते। मस्तिष्क नींद के चरणों को बहुत तेजी से संसाधित करता है, जिससे नींद में भ्रम की स्थिति उत्पन्न होती है। नींद में झटका लगना भी इन्हीं मस्तिष्क में रसायनों की प्रतिक्रिया का रिएक्शन है।

हाइपनिक जर्क के कारण

आमतौर पर, इन हाइपनिक जर्क्स के बारे में चिंता करने की कोई बात नहीं है क्योंकि अगर आप एक बार भी जाग जाते हैं, तो आप बस पलट कर सो सकते हैं। कुछ कारक जो हाइपनिक जर्क का कारण बन सकते हैं जैसे...

. आनुवांशिक

. भावनात्मक तनाव

. डिप्रेशन में रहना

. कैफीन का अधिक सेवन 

. नींद की कमी

. दिमाग को आराम ना मिलना

. शराब धूम्रपान का सेवन

. आयरन की कमी

. मांसपेशियों की ऐंठन

. कई बार यह समस्या उतेजित करने वाली दवाओं की वजह से भी हो जाती है।

चलिए अब आपको बताते हैं हाइपनिक जर्क से बचाव के तरीके

आयरन से भरपूर चीजों का सेवन

चूंकि यह समस्या शरीर में आयरन की कमी से भी हो सकती है इसलिए जितना हो सके डाइट में आयरन, मैग्नीशियम और कैल्शियम से भरपूर चीजें लें। इसके लिए रोज दूध, फ्रूट्स, गुड़, वेजिटेबल सलाद, दही, केले और सूखे मेवे खाएं।

एक्घ्सरसाइज करने से बचें

सोने से पहले एक्सरसाइज करने से दिमाग पर तनाव पड़ता है। इससे आप रात को अच्छी तरह से सो नहीं पाते। सोने से 6 घंटे पहले ही एक्सरसाइज कर लें।

सही पोजीशन में सोना

सोल्जर पोजीशन यानि पीठ के बल हाथों को सीधा करते हुए सोना सबसे अच्छी मुद्रा मानी जाती है। शवासन में इस्तेमाल होने वाली इस पोजीशन में सोने से रीढ़ की हड्डी सीधी रहती है और पेट में एसिड भी नहीं बनता। साथ ही इससे नींद भी अच्छी आती है।

इन बातों का भी रखें ध्यान

1. हर व्यक्ति के लिए कम से कम 8 घंटे की नींद लेना जरूरी है। सोने से पहले गर्म पानी से नहाएं। इससे शरीर रिलैक्स होगा।

2. रात को सोने से पहले कॉफी, चाय, कैफीन या सोडा न पीएं।

3. सोने से पहले इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स का यूज ना करें और न ही दिमाग पर जोर पड़ने वाला कोई काम करें।

4. ज्यादा मीठी चीजों का सेवन करने से नींद में खलल पड़ सकता है। ऐसे में बेहतर होगा कि आप मीठे और नमकीन पदार्थ कम खाएं।

अगर हाइपनिक जर्क में जागने के बाद आपको फिर से सोने में कठिनाई होती है तो बेहतर होगा कि इस बारे में डॉक्टर से बात करें।