गंभीर बीमारियां दे सकती हैं आपकी भूखे पेट सोने की आदत

मोटापे से परेशान लोग वजन कम करने के लिए अलग-अलग उपाय अपनाते हैं। इनमें कुछ लोग रात को खाली पेट सोना सही समझते हैं। मगर एक्सपर्ट्स के अनुसार, रात को बिना कुछ खाएं सोने से शरीर का कई समस्याओं व बीमारियों की चपेट में आने का खतरा रहता है। चलिए आज हम आपको खाली पेट सोने के नुकसान बताते हैं...

नींद ना आने की परेशानी

खाली पेट सोने से नींद ना आने की परेशानी झेलनी पड़ सकती है। असल में, रात को भूखे सोने से दिमाग खाने के प्रति शरीर को सचेत करने लगता है। इसके कारण बार-बार भूख का अहसास होता है। ऐसे में नींद ना आने में दिक्कत होती है। धीरे-धीरे यह आदत बनने पर व्यक्ति अनिद्रा का शिकार हो जाता है।

मेटाबॉलिजम पर बुरा असर

रात भर कई घंटों तक भूखे रहने से मेटाबॉलिजम पर बुरा असर पड़ता है। इससे शरीर में इंसुलिन स्तर में गड़बड़ी का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा कोलेस्ट्रॉल, थायरॉयड लेवल और हॉर्मोन में भी गड़बड़ी हो सकती है। इसके कारण शरीर जल्दी ही बीमारियों की चपेट में आ सकता है।

मांसपेशियों में कमजोरी

एक्सपर्ट्स के अनुसार, खाली पेट सोने से मांसपेशियों में कमजोरी हो सकती है। असल में, कई घंटों तक भूखे रहने से प्रोटीन और अमीनो एसिड की कार्यक्षमता पर गहरा प्रभाव पड़ता है। इसके कारण मांसपेशियों में कमजोरी होने लगती है।

एनर्जी लेवल कम होने का खतरा

एक्सपर्ट्स के अनुसार, रात को भूखे सोने से शरीर का एनर्जी लेवल कम होने का खतरा रहता है। इसके कारण दिनभर कमजोरी, थकान व सुस्ती महसूस हो सकती है। ऐसे में दिनभर काम करने की कार्यक्षमता भी कम होने लगती है।

नेचर बन बढ़ने लगेगा चिड़चिड़ापन

एक्सपर्ट्स के अनुसार, रात को खाली पेट सोने से मूड स्विंग होने की परेशानी हो सकती है। इसके कारण स्वभाव में गुस्सा व चिड़चिड़ापन बढ़ सकता है। ऐसे में व्यक्ति हर समय या यूं कहे कि छोटी-छोटी बात में भी गुस्सा करने लगता है।

ऐसे में इन सब समस्याओं से बचने के लिए सोने से पहले कुछ हल्का-फुल्का जरूर खाएं। ताकि आपका वजन कंट्रोल रहने के साथ बीमारियों से बचाव रहे।

posted by - दीपिका पाठक