प्रेमचंद की कथाओं के एक - एक पात्र कालजयी- दीपक क्रांति

बदलाव मंच राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय (रजि) संस्था , झारखंड संस्थापक अध्यक्ष दीपक क्रांति की अध्यक्षता तथा अध्यक्षा रूपा व्यास के सफल संयोजन में  ओमान देश से रश्मि  मानसिंघानीजी समेत लगभग 25 राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर के साहित्यकारों के  लघुकथाओं व कहानियों से  उपाध्यक्षा अर्चना फौजदार  के  शानदार सञ्चालन में ऑनलाइन महफ़िल सजाई गई।

कार्यक्रम की शुरुआत सांई स्मिता रांची द्वारा सरस्वती वन्दना से किया ,कहीं रेखा मंडलोई ने नमक के दरोगा की प्रस्तुति दी तो कहीं गीता जी अपने लघुकथा से सबको सराबोर किया।

वहीं बदलाव मञ्च के राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय व्यवस्थापक शिव प्रकाश साहित्य ने समसामयिक कजरी लघुकथा की प्रस्तुति दी तथा सोशल मीडिया प्रभारी जितेन्द्र पाण्डेय 'जीत' ने सबको अपनी प्रस्तुति से प्रभावित किया।

बदलाव मञ्च के संस्थापक दीपक क्रान्ति ने प्रेमचंद के गद्यकाव्य की ओर अग्रसरित होने की प्रेरणा दी..दीपक क्रांति ने प्रेमचंद के साहित्य को कालजई बताया और कहा कि जब तक सूर्य - चन्द्र है तब तक उनके कालजई कथाओं के एक एक पात्र के एक - एक वाक्य यादगार रहेंगे।वहीं रूपा व्यास ,अर्चना फौजदार,सुनील दत्त मिश्रा ने सभी रचनाकारों को प्रेरित किया।

सभी प्रतिभागियों ने बढ़चढ़कर अपने कथावाचन की प्रस्तुति से व सहयोग से कार्यक्रम को जारी रखा जिनमें

..रश्मि मानसिंघानी,ओमान,जितेन्द्र विजयश्री पाण्डेय 'जीत',डॉ रजनी शर्मा 'चंदा' ,रांची झारखंड,रंजना बिनानी गोलाघाट,कवयित्री नैन्सी गुप्ता सफीपुर जिला उन्नाव उत्तर प्रदेश,प्रकाश कुमार मधुबनी'चंदन',डॉ मलकप्पा अलियास महेश बेंगलूर कर्नाटक, डॉ सुनील कुमार परीट कर्नाटक,बाबूराम सिंह कवि, बिहार, साईं स्मिता, झारखंड,डॉ सत्यम भास्कर भ्रमरपुरिया, दिल्ली,.डाॅ०विजय लक्ष्मी, काठगोदाम,वासुदेव नेगी उत्तरकाशी। .सुधीर श्रीवास्तव, गोण्डा, उ.प्र,.भास्कर सिंह माणिक ,कोंच,डॉ.अफ़सर उन्निसां बेगम, हैदराबाद, तेलंगाना,प्रीति हर्ष नागपुर महाराष्ट्र,नगेंद्र बाला बारेठ,दिल्ली,महेजबीन महमूद राजानी गोंदिया महाराष्ट्र,मधु भूतड़ा गुलाबी,मधु वैष्णव मान्या,गीता पांडे अपराजिता रायबरेली उत्तर प्रदेश,प्रो डॉ दिवाकर दिनेश गौड़ गोधरा (गुजरात) चेतना गोर,कच्छ गुजरात चंद्रप्रकाश गुप्त "चंद्र",अहमदाबाद, गुजरात,आकाश  वनमोरे (बेलगाम कर्नाटक),यादगार राही,जुगल किशोर पुरोहित, व डॉ आकांक्षा चौधरी(राँची)  ने अपनी विशेष प्रस्तुति से प्रेमचंद जी की को अपनी कहनियों की शानदार प्रस्तुतियां दी। अंत में बदलाव मंच की गीता पांडेय ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

बदलाव मंच ट्रस्ट अध्यक्ष रूपक क्रांति,सचिव बुधन गंझु,अमित लकड़ा,शिक्षक विनीत कुमार,रूपेश कुमार व राष्ट्रीय कार्यकारिणी के डॉ सत्यम भास्कर भ्रमरपुरिया , भास्कर सिंह माणिक कोंच, चंद्र प्रकाश गुप्त चंद्र, गीता पांडेय,राष्ट्रीय समीक्षाध्यक्ष नंदिता रवि चौहान  बदलाव मंच अभिभावक सुनील दत्त मिश्रा,महिला उपाध्यक्षा अर्चना फ़ौज़दार, शोभा किरण,ओम प्रकाश ओम,डॉक्टर अर्पिता, सोशल मीडिया प्रभारी  जीतेंद्र विजयश्री जीत,प्रकाश कुमार मधुबनी,सुखदेव टेलर निम्बी जोधा आदि सभी पदाधिकारी पूरे कार्यक्रम में उपस्थित रहे व कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग किया।

यह अभी जानकारी बदलाव मंच के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी शैलेन्द्र पयासी ने दी।