श्रीकृष्ण की नगरी मथुरा के द्वारिकाधीश मंदिर में अब भक्त कर सकेंगे आठों झांकियों के दर्शन

 मथुरा : श्रीकृष्ण की नगरी मथुरा के विश्व विख्यात पुष्टिमार्गीय संप्रदाय के द्वारिकाधीश मंदिर में अब भक्त आठ झांकियों के दर्शन कर सकेंगे। यह व्यवस्था सोमवार से लागू हो गई है। मंदिर के मीडिया प्रभारी राकेश तिवारी एडवोकेट ने बताया कि कोराना वायरस की वजह से मंदिर के दर्शन में अब तक परिवर्तन किया जाता रहा, लेकिन अब उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा किसी भी प्रकार का लॉकडाउन नहीं है। 

इसी को दृष्टिगत रखते हुए मंदिर प्रशासन ने मंदिर के गोस्वामी को निवेदन किया कि क्यों न अब पुरानी व्यवस्था को लागू करते हुए ठाकुरजी के आठों झांकियों के दर्शन भक्तों के लिए खोल दिए जाएं। इसके बाद ही आठों झांकी के दर्शन खोलने की अनुमति प्रदान की गई है।

सोमवार से चार झांकी सुबह मंगला शृंगार, ग्वाल और राजभोग व चार झांकी शाम को होंगी, जिसमें उत्थापन, भोग, संध्या आरती और शयन है। इन सभी व्यवस्थाओं के साथ मुख्य द्वार से सभी दर्शनार्थी का प्रवेश रहेगा और निकास के लिए दो गेटों की व्यवस्था की गई है। दर्शनार्थी बगैर मास्क के प्रवेश नहीं कर पाएंगे। वहीं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाएगा। सोमवार को भोग संध्या आरती में फिरोजी जरी हिंडोला के साथ हिंडोला विजय मनोरथ होगा।

वृंदावन में रक्षाबंधन के पर्व पर ठाकुर श्रीबांकेबिहारी मंदिर में भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। मंदिर में भीड़ को देखते हुए मंदिर प्रबंधन को भी खासी मशक्कत करनी पड़ी। सुबह दर्शन खुलते ही मंदिर में भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। मंदिर प्रांगण बांके बिहारी के जयकारों से गुंजायमान हो रहा था। 

श्रावणी पूर्णिमा के अवसर पर भक्तों ने अपने आराध्य के दर्शन पाकर खुशी का ठिकाना ना रहा। निजी सुरक्षा गार्ड से लेकर पुलिसकर्मी लोगों की भीड़ का नियंत्रित करने में लगे। मंदिर के बाहर गलियों में भीड़ के कारण सोशल डिस्टेंसिंग का कहीं भी पालन होता नहीं दिखा। लोग भीड़ के साथ मंदिर में प्रवेश करते दिखे।