होमगार्ड विभाग में भारी भ्रष्टाचार, जाँच की मांग

लखनऊ। अमिताभ ठाकुर तथा डॉ नूतन ठाकुर ने होमगार्ड विभाग, उत्तर प्रदेश में भारी भ्रष्टाचार की जाँच की मांग की है। सीएम योगी आदित्यनाथ सहित अन्य को भेजी शिकायत में उन्होंने कहा कि उन्हें प्राप्त एक  गुमनाम शिकायत के अनुसार विभाग में 1348 होमगार्ड पिछले 15 वर्षों से लापता हैं और उनका वेतन लगातार आहरित हो रहा है. लखनऊ में कई वर्षों से सैकड़ों .303 राइफल व कारतूस गायब होने के प्रकरण को दबा दिया गया है. आरोप है कि विगत दिनों 2000 करोड़ का ड्यूटी भत्ता एरियर का भुगतान अनियानित तरीके से किया गया. यह भी आरोप है कि मुख्यमंत्री ने 2017 में होमगार्ड जवानों के ड्यूटी स्थल बदलने की प्रक्रिया पर पूरी रोक लगा दी थी पर 02 अगस्त 2021 के आदेश द्वारा अफसरों को 10 होमगार्ड बदलने का अधिकार दे दिया गया है, जिसका व्यापक दुरुपयोग किया जायेगा। शिकायत में प्रयागराज तथा लखनऊ फर्जी ड्यूटी कांड में कमान्डेंट पर कार्यवाही किये जाने पर उस कांड के लिए सीधे तौर पर दोषी अन्य अफसरों को बचा लेने तथा बाराबंकी कांड में एफआईआर के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं करने की बात कही गयी है। शासन में होमगार्ड विभाग में सालों से तैनात अनुभाग अधिकारी तथा एक होमगार्ड द्वारा भ्रष्टाचार करने की बात कही गयी है। अमिताभ तथा नूतन ने इसे गंभीर मामला बताते हुए उच्चस्तरीय जाँच कराते हुए कार्यवाही की मांग की है।