भोजन के बाद बस करें यह 1 काम, घटेगा वजन और शुगर रहेगी कंट्रोल

सेहतमंद रहने के लिए अच्छी डाइट के साथ आदतों का होना भी जरूरी है। इससे शरीर का बेहतर विकास होने के साथ बीमारियों से बचाव रहता है। नहीं तो बढ़ा हुआ वजन बीमारियों को न्योता देने के बराबर माना जाता है। मगर इससे बचने के लिए आपको हैवी वर्कआउट की जरूरत नहीं है। आप भोजन के बाद टहलने की रूटीन बना सकती है। इससे आप अपना वजन कंट्रोल करने के साथ डायबिटीज नियंत्रण रख सकती है। चलिए जानते हैं के बारे में...

अध्ययन द्वारा की इस बात की पुष्टि

अध्ययन द्वारा माना गया है कि भोजन के बाद करीब 15 मिनट तक टहलने से टाइप 2 डायबिटीज कंट्रोल रहती है। आप घर के बाहर जाने की जगह पर अपनी छत, लॉन, हॉल या सीढ़ियों पर 15 मिनट तक टहल सकती है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, शुगर लेवल के स्तर में तेजी होना भी वजन बढ़ने का एक कारण माना गया है। ऐसे में आप इस आसान उपाय से अपना वजन और डायबिटीज दोनों को कंट्रोल रख सकती है।

भोजन के बाद टहलना सही

भोजन के बाद टहलने से पाचन क्रिया तेज होती है। ऐसे में खाना सही से पचाने में मदद मिलती है। इसके साथ पेट व पाचन संबंधी समस्याओं के होने से बचाव रहता है। इससे आंतें स्वस्थ रहते हैं और एसिडिटी, कब्ज, गैस आदि पेट संबंधी समस्याओं से बचाव रहता है। इसके अलावा सुस्ती, थकान, आलस्य दूर होकर हल्का व तरोताजा महसूस होता है।

10-15 मिनट तक टहलना सही

एक्पर्ट्स के अनुसार, रोजाना 10-15 मिनट तक टहलाना एकदम सही है। हां, आप चाहे तो धीरे-धीरे इसकी अवधि बढ़ा सकती है। मगर इस बात का ध्यान रखें कि आपको भोजन करने के करीब 1 घंटे के अंदर ही टहलना है। तभी आपको पूरा लाभ मिल पाएगा।

टहलने के दौरान इन बातों का रखें खास ख्याल

. आपको तेजी से चलने की जगह धीरे-धीरे टहलना है। असल में, आप भोजन के बाद टहलने से आपका पेट भरा होता है। ऐसे में तेज गति से चलने के कारण आपकी पाचन प्रक्रिया प्रभावित हो सकती है। इसके कारण आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

. इसके साथ ही भोजन के बाद दौड़ने व हैवी वर्कआउट करने से बचें। इससे आपको पाचन व शरीर संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

. अगर आप पहले से ही मोटापे से परेशान है तो आपको भोजन के बाद टहलने के साथ अपनी डेली डाइट का भी ध्यान रखना होगा। इसके लिए इस बात पर गौर करें कि आप क्या और कितना खा रहे हैं। खाने में वसा, तेल व मसालेदार चीजों की मात्रा कम करें। इसके साथ ही दिनभर समय निकालकर योगा व एक्सरसाइज का सहारा लें।