India vs Sri Lanka: धवन की कप्तानी पारी पर बोले सहवाग

भारत और श्रीलंका के बीच खेले गए पहले वनडे मुकाबले में टीम इंडिया ने मेजबान टीम को 7 विकेट से रौंदा। आमतौर पर ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते लिए मशहूर शिखर धवन पहले मुकाबले में एंकर का रोल निभाते नजर आए और एक जिम्मेदारी भरी पारी खेली। धवन 86 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे। धवन ने एक छोर संभाल कर रखा जिसकी वजह से पृथ्वी शॉ और ईशान किशन जैसे युवा बल्लेबाज खुलकर बैटिंग करने में सफल रहे। हालांकि, गब्बर अपने शतक से 14 रन दूर रह गए। भारत के पूर्व बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने शिखर की इस कप्तानी पारी की जमकर तारीफ की। सहवाग ने कहा कि धवन ने वो रोल अदा किया जो एक समय पर राहुल द्रविड़ टीम के लिए निभाते थे।

'क्रिकबज' के शो पर बात करते हुए सहवाग ने कहा कि धवन के पास जितना अनुभव मौजूद है उतना श्रीलंका की इस पूरी टीम के पास नहीं है। उन्होंने कहा कि धवन ने अपने इसी अनुभव का फायदा उठाया और उनको मालूम है कि जब दूसरे छोर से इतनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी हो रही है तो उन्हें रिस्क लेने की जरूरत नहीं है। पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा कि धवन ने वो रोल अदा किया जो एक समय में राहुल द्रविड़ भारतीय टीम के लिए निभाते थे। वह एक छोर पर आराम से खेलते रहे और दूसरे एंड से बाकी बल्लेबाज आते रहे और चौके-छक्के लगाते रहे।'

धवन ने अपनी 86 रनों की पारी के दौरान 6 चौके और एक छक्का लगाया। कप्तान के अलावा पृथ्वी शॉ ने महज 24 गेंदों में 43 रनों की तूफानी पारी खेलकर फैन्स का जमकर मनोरंजन किया। शॉ के आउट होने के बाद वनडे में अपना डेब्यू कर रहे ईशान किशन ने टी-20 फॉर्मेट की तरह बैटिंग की और महज 33 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। ईशान 42 गेंदों में 59 रन बनाकर आउट हुए। नंबर चार पर बल्लेबाजी करने उतरे मनीष पांडे ने भी कुछ अच्छे शॉट्स लगाए, लेकिन वह अपनी शुरुआत को बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर सके।