बारिश से सितम ढा रही गर्मी से राहत

बांदा। आषाढ़ में सितम ढा रही उमस भरी गर्मी से लोगों ने कुछ राहत महसूस की। दिनभर बादल छाए रहने और शाम को झमाझम बारिश से मौसम खुशगवार हो गया। बारिश से सड़कें और गलियां जलमग्न हो गईं। मौसम विभाग के मुताबिक, अधिकतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस लुढ़क गया। मौसम के जानकारों का कहना है कि मंगलवार को भी ऐसा ही मौसम रहने के आसार हैं। पश्चिमी हवा और दबाव से मौसम में परिवर्तन आया है। र्कई दिनों से भीषण गर्मी और तेज धूप की तपन से जूझ रहे बाशिंदों को मौसम में आए बदलाव से कुछ राहत मिल गई। सुबह लगभग 10 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से ठंडी हवा चलने और बादल व बूंदाबांदी से गर्मी काफूर रही। मौसम सुहावना रहा। शाम को तेज बारिश होने से उमस से बेहाल लोगों को और राहत मिल गई। लगभग 10 मिमी बारिश होना बताया गया है। मानसूनी मौसम की शुरुआत से अब तक लगभग 47 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई है। झमाझम बारिश से शहर के कई इलाकों में जलभराव की नौबत रही। सड़कें और गलियां जलमग्न हो गईं। नाले-नालियों का गंदा पानी सड़कों पर आ गया। मौसम विभाग के मुताबिक, बादल और बारिश से अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस से लुढ़ककर 35 डिग्री सेल्सियस हो गया। न्यूनतम तापमान में भी दो डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। 29 से 27 डिग्री सेल्सियस हो गया। जानकारों का कहना है कि पश्चिमी हवाएं से चलने से सोमवार को भी बादल और बारिश की संभावना है।