केन विलियमसन ने बताया कोहली को गले लगाने की वजह

करीब 21 साल बाद न्यूजीलैंड के आईसीसी खिताब जीतने की खुशी और एक बार फिर से आईसीसी टूर्नामेंटों के फाइनल में भारत की हार की निराशा वाली तस्वीरें बहुत कुछ बयां कर रही है। लेकिन मैच के परिणामों से अलग कुछ ऐसी भी तस्वीरें सामने आई, जिसे फैन्स शायद ही कभी भूल पाए। उन्हीं तस्वीरों में से एक तस्वीर डब्ल्यूटीसी विजेता न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन की भारतीय कप्तान विराट कोहली को गले लगाने की है। डब्ल्यूटीसी फाइनल के बाद विलियमसन और कोहली को आपस में गले मिलते हुए देखा गया था। विलियमसन ने न सिर्फ कोहली को गले लगाया, बल्कि उनके कंधे पर अपना सिर भी रखा। फाइनल के करीब एक सप्ताह के बाद विलियमसन ने कोहली को लगे लगाने के राज का खुलासा किया है। 

विलियमसन ने क्रिकबज से बात करते हुए कहा, ' वह एक शानदार पल था। हम जानते थे कि जब भी आप भारत के खिलाफ खेलते हैं, आप कहीं भी हों, अविश्वसनीय रूप से यह एक मुश्किल चुनौती है। वे अक्सर हमारे खेल में सभी प्रारूपों में बेंचमार्क सेट करते हैं। वे दिखाते हैं कि उनके पास कितनी गहराई है और उनके देश में भी क्रिकेट है।' 

कीवी कप्तान ने भारतीय कप्तान कोहली के कंधों पर अपना सिर रखने के बारे में खुलासा करते हुए कहा, 'मैं और विराट लंबे समय समय एक-दूसरे को जानते हैं और हम काफी अच्छे दोस्त हैं। हम हमेशा से जानते हैं कि य​ह एक बहुत बड़ी तस्वीर है। वास्तव में यह एक बहुत शानदार पल था। हमारी दोस्ती क्रिकेट के खेल से भी बहुत बड़ा है और हम दोनों यह जानते हैं।' 

विलियमसन ने फाइनल में पहली पारी में नाबाद अर्धशतकीय पारी खेली और 139 रन के लक्ष्य को आसानी से हासिल कर लिया। उनकी इस पारी के दम पर ही न्यूजीलैंड ने भारत को आठ विकेट से हराकर करीब 21 साल बाद दूसरी बार आईसीसी का खिताब अपने किया। उन्होंने कहा, ' दोनों ही टीमें बहुत प्रतिस्पर्धी थी और वास्तव में यह एक कड़ा मुकाबला था। मुझे पता है कि आखिर में परिणाम ही मायने रखता है। पूरे मैच के दौरान ऐसा लगा कि यह चाकू की धार की तरह है और आपके मन में इसका पूरा सम्मान है। अंत में, इस तरह के मुश्किल मैच के बाद दोनों टीमें एक-दूसरे की तारीफ करती है। किसी टीम को ट्रॉफी मिलती है, और किसी टीम की किस्मत में शायद यह नहीं होती है।'