क्या सोते समय आपके मुंह से भी टपकती है लार? यहां जानिए कारण और इलाज

सिर्फ बच्चों में ही नहीं बल्कि व्यस्कों को भी सोते समय मुंह से लार टकपने की समस्या होती है। इसके कारण उन्हें कई शर्मिंदगी का सामना भी करना पड़ता है। हालांकि ड्रोलिंग इतना बुरा भी नहीं है क्योंकि की बार यह आपके आराम से सोने का संकेत हो सकता है। आइए, जानते हैं सोते वक्त आखिर मुंह से लार क्यों बहने लगती है और आप कैसे इससे निजात पा सकते हैं।

क्यों निकलती है मुंह से लार?

वैज्ञानिक भाषा में लार निकलने की समस्या को सिआलोरेहिआ भी कहा जाता है। दरअसल, गहरी नींद के समय चेहरे की नसें आराम करती हैं, जिससे मुंह के ग्लैंड्स व एक्सोक्राइन ग्रंथि लार बनाते हैं। दिन में व्यक्ति लार निगल लेता है लेकिन नींद में नसों के शिथिल होने की वजह करवट लेते हुए यह बहने लगती है। 

मुंह से लार निकलने के कारण

. खान-पान की कोई वस्तु

. दवा से एलर्जी

. मानसिक तनाव

. ड्रग्स या अल्कोहल

. नींद की कमी

. किसी गंभीर बीमारी के कारण

. एसीडिटी

. टोंसिलाइटिस ग्लैंड्स में गड़बड़ी

. साइनस इंफेक्शन

. गलत पोजिशन में सोना

. स्लीप एपनिया

मुंह से बहती है लार तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

जल्दी पचने वाला भोजन करें

अगर आपको यह समस्या अधिक है तो अपनी डाइट में फेर-बदल करके देखें। ऐसा भोजन खाएं जो जल्दी पच जाए।

भरपूर पानी पीएं

ढेर सारा पानी पिएं क्योंकि अगर शरीर अच्छी तरह से हाइड्रेटेड होगा तो तरलीय बनाए रखने के लिए मुंह को अधिक लार बनाने की जरूरत नहीं होगी।

तुलसी की पत्तियां

लार बहने की समस्या से छुटकारा पाने के लिए दिन में 3-4 बार तुलसी के पत्तों को अच्छी तरह चबाकर खाएं और फिर 1 गिलास पानी पी लें।

फिटकरी से कुल्ला

रोजाना दिन में 2 बार फिटकरी के पानी से कुल्ला करें। इससे लार से निजात मिलेगी और मसूड़े भी स्वस्थ रहेंगे।

दालचीनी की चाय

दालचीनी की चाय पीने से भी लार बहने की समस्या से छुटकारा मिलता है। इसके लिए दालचीनी को पानी में उबालकर शहद मिलाकर पिएं।

आंवला पाउडर

भोजन के तुरंत बाद आधा गिलास गुनगुने पानी के साथ आंवला पाउडर खाएं। इससे भी लार की समस्या से निजात मिलती है।

बोटोक्स इंजेक्शन भी फायदेमंद

दरअसल, बोटोक्स इंजेक्शन से चेहरे की मांसपेशियों में मजबूती व कसावट आती है। इससे ड्रूलिंग की समस्या काफी हद तक कम हो जाती है।

posted by - दीपिका पाठक