ऐली-परसौली तटबंध पर डीएम ने लगवाया सीसीटीवी कैमरा

गोंडा । डीएम मार्कण्डेय शाही ने बुधवार को तहसील तरबगंज अन्तर्गत घोड़हन ऐली-परसौली तटबंध तथा सोनौली मोहम्मदपुर सकरौर-भिखारीपुर तटबंध के मरम्मत कार्य का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान डीएम को मरम्मत कार्य संतोषजनक मिला।सोनौली मोहम्मदपुर सकरौर-भिखारीपुर तटंबध के निरीक्षण के लिए अचानक पहुंचे डीएम ने पाया कि तटंबध की मरम्मत का कार्य तेजी से कराया गया है तथा अभी कुछ कार्य कराया जाना शेष है। डीएम ने मौके पर उपस्थित अधिशासी अभियन्ता बाढ़ खण्ड वी0एन0 शुक्ला को निर्देशित किया कि मरम्मत कार्य एक सप्ताह में पूर्ण कराकर अवगत कराएं। निरीक्षण के दौरान डीएम ने किलोमीटर 11.400 से किलोमीटर 12.500 के बीच बनाए गए स्पर, नोज तथा पिचिंग कार्य को देखा। स्पर नम्बर 08 पर जब डीएम ने फीते से स्पर को नपवाया तो स्पर की चौड़ाई मानक 05 मीटर के सापेक्ष एक मीटर अधिक मिली। डीएम ने इस पर प्रसन्नता व्यक्त की। स्पर नम्बर 7, 8 व 9 को परक्यूपाइन से जोड़ने तथा सभी स्परों को एक दूसरे से जोड़ने के निर्देश दिया मोहम्मदपुर तटबंध का निरीक्षण करने के बाद डीएम ने ऐली-परसौली घोड़हन तटबंध का निरीक्षण किया। वहां पर भी कार्य प्रगति पर पाया गया।  इस अवसर पर बाढ़ तैयारियों के बारे में डीएम ने बताया कि यदि बाढ़ की स्थिति बनती है तो 1464 मजरों के 37153 परिवारों के लगभग दो लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हो सकते हैं। अनुमानित संख्या के अनुसार बाढ़ खण्ड व आपदा प्रबन्धन सहित अन्य सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को पूरी तैयारी सुनिश्चित कराने के निर्देश दे दिए गए हैं। उन्होंने अपर जिलाधिकारी को निर्देश दिए हैं कि बाढ़ चैकियों को सक्रिय रखें तथा इसके साथ ही स्टाफ की तैनाती तथा अन्य सम्बन्धित विभागों के साथ समन्वय बनाकर रणनीति बनाएं रखें।निरीक्षण के दौरान एसडीएम तरबगंज राजेश कुमार, एक्सईएन बाढ़ खण्ड वी0एन0 शुक्ला, एसओ उमरी करूणाकर पाण्डेय तथा डीएम के ओएसडी शिवराज शुक्ला उपस्थित रहे।