श्रीलंका दौरे पर जाने वाली टीम में इन खिलाड़ियों को शामिल न करने पर भड़के दीप दासगुप्ता

श्रीलंका दौरे में जाने वाली भारतीय टीम का ऐलान गुरुवार को कर दिया गया है। शिखर धवन को श्रीलंका दौरे के लिए टीम का कप्तान बनाया गया है। वहीं तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार को टीम का उपकप्तान बनाया गया है। भारत की 20 सदस्यीय टीम में कई नए चेहरों को जगह मिली है। टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर बल्‍लेबाज दीप दासगुप्‍ता ने जयदेव उनादकट और राहुल तेवतिया को टीम में ना शामिल करने पर नाराजगी जताई।भारतीय क्रिकेट टीम 13 से 25 जुलाई के बीच श्रीलंका में तीन वनडे और तीन टी20 मैचों की सीरीज खेलेगी।

दीप दासगुप्‍ता ने अपने यूट्यूब चैनल में कहा," मुझे लगता है कि इस महामारी के समय में चयन इतना आसान हो गया है। छह मैच हैं - तीन टी20  और तीन वनडे। आपको 20 खिलाड़ी चुनने हैं और पांच नेट बॉलर्स का चयन करना है।आप कुछ अन्य खिलाड़ियों को भी शामिल कर सकते थे, उन्होंने क्या गलत किया? जयदेव उनादकट और यहां तक ​​कि राहुल तेवतिया जैसे खिलाड़ियों को भी शामिल किया जा सकता था, जो पिछली सीरीज के दौरान टीम का हिस्सा थे। 25 के बजाय 27 लेने से कोई फर्क नहीं पड़ता" 

पूर्व विकेटकीपर खासतौर पर उनादकट को ना खिलाने से हैरान हैं। उन्होंने उनादकट को मेहनती और जुनूनी बताया। उनादकट ने 2019-20 रणजी ट्रॉफी में सौराष्ट्र के लिए 67 विकेट लिए थे। भारत के लिए उन्होंने आखिरी मैच साल 2018 में खेला था। उन्होंने मार्च में बांग्लादेश के खिलाफ निदाहास ट्रॉफी का फाइनल खेला था। दीप दासगुप्‍ता ने आगे कहा, "'मैं टीम चयन के बारे में ज्‍यादा नहीं कहूंगा। 20 खिलाड़ी हैं, जो भी दावेदार था, उसे जगह मिली। इसमें कोई आश्‍चर्य नहीं है। मैं वास्तव में चाहता था कि जयदेव उनादकट को जगह मिले क्‍योंकि वह काफी जुनूनी और कड़ी मेहनत करने वाले खिलाड़ी हैं। सिर्फ आईपीएल ही नहीं,  उन्‍होंने रणजी ट्रॉफी में 20-25 ओवर डाले। कड़ी मेहनत की और शानदार प्रदर्शन किया। मैं पहले भी कहा, आप 25 के बजाय 26 खिलाड़ी चुनते तो कोई फर्क नहीं पड़ता।"

श्रीलंका दौरे के लिए चुनी गई भारतीय टीम

शिखर धवन (कप्तान), भुवनेश्वर कुमार (उप-कप्तान), पृथ्वी शॉ, देवदत्त पडीक्कल, ऋतुराज गायकवाड़, सूर्यकुमार यादव, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, नीतीश राणा, ईशान किशन, संजू सैमसन, युजवेंद्र चहल, राहुल चाहर, कृष्णा गौतम, क्रुणाल पांड्या, कुलदीप यादव, वरुण चक्रवर्ती, दीपक चाहर, नवदीप सैनी, चेतन सकारिया