कलेक्ट्रेट सभागार में गेहूं क्रय एजेंसियों द्वारा किए जा रहे कार्यों की जिलाधिकारी ने की समीक्षा

आजमगढ़ : जिलाधिकारी राजेश कुमार ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में गेहूं क्रय एजेंसियों द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा किया। जिलाधिकारी ने क्रय एजेंसियों को निर्देश दिया कि निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष क्रय को सुनिश्चित करने के लिए कर्मचारियों/लेबरों से डबल शिफ्ट में कार्य लिए जाएं। उन्होंने कहा कि लेबरों के बैठने-उठने, पानी पीने आदि की उचित व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि प्लेटफार्म पर टीन शेड लगाकर छायादार बनाया जाए।

 जिलाधिकारी ने कहा कि (रैक) खाद, बीज एवं अन्य उर्वरक को लाने ले जाने पर कोई रोक नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि कृषि से संबंधित किसी भी कार्य को रोक नहीं है, लेकिन कोविड-19 के गाइडलाइन का पालन अवश्य करना होगा। उन्होंने कहा कि शनिवार एवं रविवार को लॉकडाउन में भी कृषि से संबंधित कार्य पर कोई रोक नहीं है। सभी बीज एवं उर्वरकों की दुकानें खुली रहेंगी।

 जिलाधिकारी ने कहा कि गेहूं क्रय करने में लापरवाही करने वालों पर कड़ी कार्यवाही की जाएगीl उन्होंने कहा कि जो भी ठेकेदार लापरवाही/ शिथिलता दिखाए, उसे तत्काल ब्लैक लिस्टेड किया जाएl उन्होंने कहा कि गेहूं क्रय में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगील  जिलाधिकारी ने कहा कि सभी क्रय एजेंसियां अपने कर्मचारियों का कोविड वैक्सीनेशन अवश्य कराएंl उन्होंने कहा कि 18 वर्ष से ऊपर के बच्चों एवं माता-पिता तथा पत्नी का टीकाकरण अवश्य कराएंल  बैठक में क्रय एजेंसियों के प्रभारी एवं संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।