शरीर में विटामिन डी की कमी बढ़ाती है अफीम की लत, जानें कैसे करें पूरा

अच्छी सेहत पाने के लिए हमें पोषक तत्वों से भरपूर आहार और व्यायाम की जरूरत पड़ती है। इसके अलावा आपकी डाइट में पोषक तत्वों जैसे विटामिन और मिनरल का होना भी बहुत जरूरी है।  वैसे तो सारे विटामिन हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए बेहद जरूरी हैं, लेकिन इनमें भी सबसे जरूरी है- विटामिन डी। जिसकी कमी होने पर शरीर में कई तरह की गंभीर समस्याएं शुरू हो जाती है, आईए जानते हैं शरीर के लिए विटामिन डी क्यों जरूरी है।

विटामिन डी की कमी शरीर को किसी भी चीज का आदती भी बना देती है-

सूर्य की किरणें यानि की धूप विटामिन डी का सबसे अच्छा स्त्रोत हैं, लेकिन कई बार लोग अपनी दिनचर्या में व्यस्त होने की वजह से विटामिन डी नही ले पाते। जिसके एवज में वह विटामिन डी के सप्लीमेंट्स लेना शुरू कर देते हैं। लेकिन क्या आपने जानते है कि विटामिन डी की कमी से आपको किसी चीज का आदती भी बना सकती है?

विटामिन डी की कमी से लग जाती है अफीम की लत-

मैसाचुसेट्स जनरल अस्पताल के रिसचर्स ने पाया कि विटामिन डी की कमी अफीम की लत को और बढ़ा सकती है।  इसकी कमी से व्यक्ति अफीम, चरस का आदती बन जाता है। बतां दें कि ये रिसर्च साइंस एडवांस पत्रिका में प्रकाशित की गई है। रिसर्च के मुताबिक, अगर आप शरीर में विटामिन डी की कमी को पूरा करने के लिए सप्लीमेंट ले रहे हैं, तो इससे इस समस्या को दूर किया जा सकता है। 2007 में मास जनरल कैंसर सेंटर के मैलानोमा प्रोग्राम के निदेशक डेविड ई फिशर ने अपनी टीम के साथ एक शोध किया। फिशर और उनकी टीम ने पाया कि यूवी किरणों के संपर्क में आने से त्वचा इंडोर्फिन हार्मोन का उत्पादन करती है। ये हार्मोन मॉर्फिन, हेरोइन और नशीली चीजों से संबंधित हैं। ये मस्तिष्क के रिसेप्टर्स को सक्रिय करने में सहायक होते हैं। 

चूहों पर की गई थी यह रिसर्च- 

बतां दें कि फिशर ने ये रिसर्च चूहों पर की और पाया कि यूवी एक्सपोजर की वजह से चूहों में एंडोर्फिन लेवल बढ़ता है। इसके बाद उनका व्यवहार अफीम की लत के जैसा हो गया।

विटामिन डी कैल्शियम और हड्डियों के लिए बेहद जरूरी है- 

फिशर का कहना है कि इंसान और जानवर धूप में सिर्फ विटामिन के उत्पादन के लिए आते हैं। यूवी एक्सपोजर से विटामिन डी बनता है। इससे कैल्शियम का लेवल भी बढ़ता है, जो हड्डियों के लिए बेहद जरूरी है। 

जानिए, विटामिन डी की कमी के लक्षण- 

-थकान महसूस करना 

-हड्डियों में दर्द और कमजोरी महसूस होना।

-शरीर की मांसपेशियों में लगातार दर्द होना।  

-बाल झड़ना

- चोट लगने पर उसके भरने में काफी अधिक समय लगना।

विटामिन डी की कमी को कैसे करें पूरा-

-विटामिन डी का मुख्य स्त्रोत धूप होती है। रोजान सुबह की धूप लें।

-डेयरी प्रोडक्ट्स से विटामिन डी की कमी पूरी होती है। इसके लिए दूध, गाय का दूध, पनीर, दही, मक्खन, छाछ आदि का सेवन करें।

-कॉड लिवर में भी विटामिन डी भरपूर मात्रा होता है। इससे हड्डियों की कमजोरी दूर होती है।

-विटामिन डी की कमी होने पर गाजर खाएं या फिर गाजर का जूस पीएं।

-सॉल्मन और टुना फिश खाने से विटामिन डी की कमी पूरी होती है।