यह देश न ऐसे ही बन गया था और न ऐसे ही बर्बाद हो रहा है

ओबैद नासिर

संविधान सभा का अध्यक्ष और देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद अपनी सैलरी में केवल एक रुपया लेते थे दो बार राष्ट्रपति हुए लेकिन जब अपना दूसरा कार्यकाल पूरा करके बिहार वापस गए तो रहने को घर नहीं था बिहार कांग्रेस के दफ्तर सदाक़त आश्रम में जा कर रुके थे I

आज हमारे राष्ट्रपति जी को 5 लाख रुपया सैलरी मिलती है और यह झूट बता रहे हैं की उस में से करीब तीन लाख इनकम टैक्स कट जाता है जबकि राष्ट्रपति की सैलरी इनकम टैक्स आदि से मुक्त है I

पंडित नेहरु देश के प्रथम प्रधान मंत्री उनके PS रहे MO मथाई ने लिखा है कि उन्होंने खुद पंडित जी को अपना फटा मिज़ा सी के पहनते देखा था उनकी बहन विजय लक्ष्मी पंडित ने शिमला के गांधी आश्रम से 2 हज़ार की शौपिंग कर ली आश्रम के मेनेजर ने यह बिल संयुक्त पजाब के CM सरदार कैरों को भेज दिया सरदार कैरों ने नेहरु जी से पूछा की इस बिल का भुगतान पंजाब सरकार किस मद से करे पंडित जी का  जवाब था की निजी खरीदारी का पेमेंट सरकार क्मैसे कर सकती है यह बिल मैं खुद अदा करूँगा लेकिन 2 हज़ार रुपया एक मुश्त  नहीं दे पाऊंगा 500/- प्रति माह की किस्त से अदा कर दूंगा I

देश के गृह मंत्री और दो बार कार्यवाहक प्रधान मंत्री रह चुके गुलजारी लाल नंदा जी अपना चौका बर्तन खुद करते थे और अपने हाथ से ही खाना बनाते थे 

दूसरे प्र्धान मंत्री लाल बहादुर शास्त्री की इमानदारी सादगी और भलमनसाहत के किस्से तो सभी जानते 

एक आज के प्रधान मंत्री जी है देश  को आर्थिक बदहाली के सब से निचले पायदान पर पहुंचा कर 8500 करोड़ का जहाज़ अपनी सवारी के लिए खरीदा है सेंट्रल विस्टा जैसे अनुपयोगी प्रोजेक्ट पर 2000 करोड़ खर्च कर रहे है आपदा में अवसर तलाश कर रहे हैं 

देश को बनाने में कांग्रेस के नेताओं की कुर्बानियां शामिल हैं और बर्बाद करने में बीजेपी नेताओं की विलासिता I