ब्रेन में ट्यूमर होने के ये बड़े संकेत, समय रहते हो जाएं सतर्क

कैंसर की तरह ब्रेन ट्यूमर भी एक ऐसी खतरनाक बीमारी है, जिसका अगर समय पर इलाज ना करवाया जाए तो व्यक्ति मौत के दरवाजे तक पहुंच जाता है। इस बीमारी के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए हर साल 8 जून को विश्व ब्रेन ट्यूमर दिवस भी मनाया जाता है। हम भी आपको इस बीमारी के कुछ शुरूआती संकेत बताएंगे, जिसे पहचानकर आप समय पर इलाज करवा सकते हैं।

क्या है ब्रेन ट्यूमर?

मस्तिष्क शरीर का सबसे महत्वपूर्ण व नाजुक हिस्सा है। एक सामान्य व्यक्ति में करीब 100,000,000,000 ब्रेन सेल्स होते हैं लेकिन कोशिकाओं का नियंत्रण बिगड़ने से ये सेल्स नष्ट होने लगते हैं। इससे ब्रेन सही से काम नहीं कर पाता और अनियंत्रित कोशिकाएं तेजी से फैलने लगती है, जो धीरे-धीरे कैंसर बन जाती हैं।

चलिए आपको बताते हैं कैसे पहचानें ब्रेन ट्यूमर के संकेत

सिरदर्द

गंभीर रूप से सिरदर्द होना ब्रेन ट्यूमर का सबसे बड़ा संकेत है। अगर दवा लेने के बाद भी सिरदर्द ठीक ना हो तो उसे नजरअंदाज ना करें।

किसी भी हिस्से का अचानक सुन्न पड़ना

अचानक शरीर या चेहरे के किसी हिस्से का सुन्न होना मामूली नहीं है। मस्तिष्क में किसी विकार के कारण ऐसा हो सकता है इसलिए तुरंत चेकअप करवाएं।

लगातार चक्कर आना

शरीर को झटके महसूस होना या चक्कर आना, बॉडी में अकड़न भी ब्रेन ट्यूमर के लक्षण हो सकते हैं। इसके अलावा शरीर का बिना किसी कारण कांपना भी इस बीमारी का संकेत हो सकता है।

चीजें भूलने लगना

चूंकि इससे दिमाग की कोशिकाएं प्रभावित होती है इसलिए इससे आप छोटी-छोटी बातें जैसे चाबी, कागज, मोबाइल रखकर भूलने लगते हैं। इसके अलावा इससे थकावट, उबासी आते रहना, नींद से जुड़ी दिक्कतें भी हो सकती हैं।

कम दिखना

अचानक आंखें कमजोर होना, धुंधलापन, रंगों को पहचानने व निगलने में दिक्कत भी ब्रेन ट्यूमर की ओर इशारा हो सकता है। 

दौरे पड़ना

कई लोगों का खुद पर कंट्रोल नहीं कर पाते। इससे उनकी नसों में तेज दर्द व ऐंठन होती है। वहीं, ट्यूमर के कारण कुछ लोगों को दौरे भी पड़ सकते हैं।

बेहोशी व उल्टी

ब्रेन सेल्स डैमेज होने के कारण शरीर के अंग और दिमाग नियंत्रण खो देते हैं। ऐसे में ब्लेडर पर कंट्रोल ना होना, बेहोशी, उल्टी, मतली जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

त्वचा का रंग बदलना

30 सेकेंड्स के लिए सांस ना आना और त्वचा का रंग ग्रे, सफेद, ब्लू, पर्पल और ग्रीन शेड्स में बदलना जैसे संकेतों को भी हल्के में ना लें। तुरंत अपने डॉक्टर से चेकअप करवाएं।

बोलने सुनने में परेशानी

बोलने और सुनने में अचानक दिक्कत हो रही है तो इसे नजरअंदाज ना करें और अपने चिकित्सक से जांच करवाएं। यह ब्रेन ट्यूमर का संकेत हो सकता है।

वजन बढ़ना

वजन एकाएक बढ़ जाए तो ब्रेन ट्यूमर का संकेत हो सकता है। इसके अलावा गले में अकड़न हो तो आपको सावधान रहना चाहिए।

posted by -दीपिका पाठक