टीम इंडिया के सपोर्ट में उतरे कपिल देव

आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का खिताब गंवाने के बाद भारतीय टीम की जमकर आलोचना हो रही है। लगातार तीसरे आईसीसी टूर्नामेंट में खिताब से चूकने पर टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की कप्तानी पर भी सवाल उठाए जा रहे हैं। विराट को कप्तानी से हटाने की मांग की जा रही है। चारों तरफ हो रही आलोचना के बीच में भारत को पहला विश्व कप दिलाने वाले पूर्व कप्तान कपिल देव टीम इंडिया के बचाव में उतरे हैं। कपिल ने भारतीय टीम के प्रदर्शन की तारीफ करते हुए कहा कि आप हर बार ट्रॉफी नहीं जीत सकते और फाइनल तक पहुंचना अपने आप में बड़ी उपलब्धि है। 

यूट्यूब चैनल 'स्पोर्ट्स यारी' के साथ बातचीत करते हुए कपिल देव ने कहा, 'आप मुझे एक चीज बताइए, वह सेमीफाइनल और फाइनल में हर बार पहुंच रहे हैं क्या यह अपने आप में बड़ी उपलब्धि नहीं है? हम काफी जल्दी आलोचना करते हैं। आप हर बार ट्रॉफी नहीं जीत सकते हैं। आप देखिए वह कितना शानदार खेले। अगर वह एक मैच हार जाते हैं या फिर वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल हार जाते हैं तो क्या इसका मतलब है कि वह प्रेशर के आगे झुक जा रहे हैं?' डब्ल्यूटीसी के फाइनल में भारत को न्यूजीलैंड के हाथों 8 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। 

भारत के पूर्व कप्तान ने कहा, 'सामने वाली टीम का दिन अच्छा था, वह हम से बेहतर खेले। हमने यह बहुत ध्यान से देखा है कि एक खराब प्रदर्शन को मीडिया 100 बार दिखाती है कि यह खिलाड़ी दबाव में नहीं खेल सकते हैं। हमने इस प्रेशर में कई सारे मुकाबले जीते हैं।' भारतीय टीम इस समय इंग्लैंड में ही मौजूद है और 4 अगस्त से टीम को इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है। डब्ल्यूटीसी फाइनल में मिली हार के बाद यह सीरीज भारतीय टीम के लिहाज से काफी अहम मानी जा रही है।