नुसरत जहां के आरोपों पर बोले निखिल जैन, शादी के कुछ समय बाद उनके बर्ताव में आने लगे बदलाव

बंगाली एक्ट्रेस और टीएमसी सांसद नुसरत जहां की मैरिड लाइफ इन दिनों खबरों में बनी हुई है। अभी हाल ही में नुसरत जहां ने पति निखिल जैन संग अपने रिश्ते को लेकर स्त्तेमेंट जारी कर कहा था कि इन दोनों की शादी इंडिया में वैलिड नहीं है। साथ ही नुसरत ने पति निखिल जैन पर कई संगीन आरोप भी लगाए थे। ऐसे में अब निखिल जैन ने चुपी तोड़ अपना बयान जारी किया है। निखिल जैन ने उनके एक-एक आरोपों का जवाब दिया है। उनके पति का कहना है कि उनके और नुसरत के बीच पति-पत्नी जैसे संबंध थे। दोनों अपने रिश्ते से खुश थे कि तभी 7 महीने पहले कुछ हुआ और सब बदल गया। निखिल ने फाइनेंशियल फ्रॉड के आरोपों से भी इनकार किया है और साथ ही नुसरत पर धोखा देने का आरोप भी लगाया है। निखिल जैन ने शादीशुदा जीवन, उन पर और परिवार पर लगाए गए नुसरत द्वारा इल्जामों पर बयान जारी किया। करीब एक पेज के इस बयान में उन्होंने अपनी बात को खुलकर कहा है। निखिल ने कहा, प्यार की वजह से मैंने नुसरत को शादी के लिए प्रपोज किया था। हमने साल 2019, जून महीने में टर्की जाकर शादी की थी। इसके बाद कोलकाता लौटकर रिसेप्शन दिया था। हम साथ पति-पत्नी की तरह ही रहते थे। समाज में लोग हमें मैरिड कपल के तौर पर ही जानते थे। मैंने एक भरोसेमंद पति की तरह अपना वक्त, पैसा और सामान नुसरत को सौंप दिया था। मैंने बिना किसी शर्त उनको हमेशा सहियोग किया, हालांकि, शादी के कुछ ही समय बाद उनके बर्ताव में मेरे और शादीशुदा जीवन के प्रति बदलाव आने शुरू हो गए।

निखिल ने अपने बयान में आगे कहा, अगस्त 2020 में मेरी पत्नी नुसरत ने एक फिल्म की शूटिंग शुरू की, जिसके बाद उनका रवैया बदलना शुरू हो गया। इसकी वजह क्या थी, ये तो नुसरत को ही बेहतर तरीके से पता होगी। पति-पत्नी की तरह रहते हुए मैंने कई मौकों पर नुसरत से गुजारिश की कि शादी को रेजिस्टर करा लिया जाए, पर वो हमेशा मेरी बात नजरअंदाज करती रहीं। निखिल जैन का आरोप है कि, 5 नवंबर 2020 को नुसरत घर से अपने सभी जरूरी, गैर जरूरी सामान के साथ चली गईं। 5 नवंबर 2020 को नुसरत अपना बैग और सामान लेकर अपने पर्सनल फ्लैट में शिफ्ट हो गईं। उसके बाद से हम दोनों साथ नहीं रहे। वह अपनी सभी निजी चीजें, पेपर्स और और डॉक्यूमेंट्स अपने साथ ले गईं। आई रिटर्न्स के कागज और बाकी का बचा हुआ पर्सनल सामान भी उन्हें कुछ ही दिन बाद पहुंचा दिया गया। मैं उनके घूमने के बारे में सामने आईं तमाम मीडिया रिपोर्ट्स को देखने के बाद काफी परेशान हो गया था। मैं ऐसा महसूस कर रहा था कि मेरे साथ धोखा हुआ है। इसी बीच 8 मार्च 2021 को मैंने नुसरत के खिलाफ कोर्ट में एक सिविल सूट फाइल कराया। इसमें कहा गया था कि हमारी शादी को रद्द किया जाए। निखिल ने बताया कि नुसरत ने शादी से पहले होम लोन लिया था। शादी के बाद उन पर बोझ कम करने के लिए उन्होंने नुसरत को आर्थिक तौर पर मदद की थी। निखिल का कहना है कि ये पैसा देते हुए दोनों के बीच समझौता हुआ था कि जैसे-जैसे नुसरत के पास पैसा आता जाएगा वो उधार दिए गए पैसे को लौटा देंगी। कोई भी पैसा जो उनके द्वारा अपने खाते से मेरे परिवार के खाते में ट्रांसफर हुए हैं वे उस लोन के बदले में थे जो मैंने एक इंसानियत के नाते दिए थे और अभी भी काफी किश्तों का भुगतान होना बाकी है। उनके द्वारा लगाए गए सभी आरोप अपमानजनक के साथ-साथ झूठे है। किसी को भी इस बात का सबूत बनाने या खोजने की जरुरत नहीं है। एक सबूत हमेशा ही साथ रहेगा और वो है मेरे बैंक स्टेटमेंट और क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट, जो कि सबूत के लिए काफी है। मेरे परिवार ने उन्हें जो कुछ भी दिया खुले हाथों से और उन्हें खुद की बेटी मानकर दिया। ये न जानते हुए कि उन्हें ये दिन देखना पड़ेगा।