कोरोना वैक्सीन से पुरुषों की प्रजनन क्षमता हो रही कम, जानें क्या कहती है स्टडी

कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सीनेशन अभियान तेजी से चलाया जा रहा है। हालांकि कोरोना वैक्सीन को लेकर तरह-तरह की अफवाहें फैलाई जा रही है। वहीं अब कहा जा रहा है कि वैक्सीन लगवाने के बाद पुरुषों की प्रजनन क्षमता पर बुरा असर पड़ता है। हालांकि के एक स्टडी में इसे अफवाह बताया गया है। स्टडी में कहा गया है कि कोरोना वैक्सीन से पुरूषों की  प्रजनन क्षमता हेल्दी बनती है।

18 से 50 वर्ष के पुरुषों पर अध्ययन

एक अध्ययन के मुताबिक 18 से 50 वर्ष के स्वस्थ लोगों को फाइजर-बायोएनटेक और मॉडर्ना कोरोना वैक्सीन की डोज दी गई। इस अध्ययन से पता लगा कि वैक्सीन लगवाने के बाद पुरुषों की प्रजनन क्षमता को कोई नुकसान नहीं पहुंचता। 

क्या कहा गया स्टडी में ? 

इस स्टडी में कोरोना संक्रमित या उसके लक्षण वाले लोगों को शामिल नहीं किया गया था। पुरुषों को वैक्सीन की डोज देने से पहले उनके स्पर्म के नमूने लिए गए। जिसके बाद वैकसीन की दूसरी डोज देने के 70 दिनों बाद फिर से स्पर्म के नमूने लिए गए। जिसके बाद एक्सपर्ट्स ने इसकी जांच की और पता चला कि फाइजर और मॉडर्ना वैक्सीन से पुरुषों के प्रजनन क्षमता पर कोई बुरा असर नहीं पड़ता और न ही उनके शुक्राणुओं का स्तर कम हुआ।