कोरोना मुक्ति यज्ञ का 29वां दिन 62 यज्ञ हुए पूर्ण

आजमगढ़। आर्यसमाज गुधनी के सुप्रसिद्ध वैदिक विद्वान आचार्य संजीव रूप के द्वारा जनपद घर में कोरोना मुक्ति के लिए किए जाने वाले यज्ञ जारी है। आज बदायूँ में एक, तथा उझानी में दो स्थानों पर यज्ञ हुए। शुरुआत यज्ञ तीर्थ  गुधनी से हुई, आज 62 यज्ञ पूरे हो गए। अब 39 यज्ञ शेष हैं। आचार्य संजीव रूप ने जनपद वासियों से आवाहन किया है कि वे अपने-अपने क्षेत्र में "कोरोना मुक्ति यज्ञ" कराके इस महामारी को जड़ से खत्म करने में अपना सहयोग कर पुण्य कमाएं । यज्ञ सृष्टि का प्रथम आविष्कार है। कोरोना महामारी एक अभिशाप है इसको हम यज्ञ योग व आयुर्वेदिक जीवनशैली को जी कर खत्म कर सकते हैं । आवास विकास ब्लॉक ए  में  सैनिक जनरल स्टोर के पास गली में यज्ञ करवाया,  वैदिक विद्वान आचार्य  धर्मवीर जी ने अथर्व वेद के मंत्रों का व्याख्यान करते हुए यज्ञ में भांति भांति की औषधियों को डालने के लाभ बताएं। उझानी के विनीत कुमार गोयल तथा पवनीश चंद्र गोयल ने भी अपने अपने आवास पर यज्ञ कराएं! इस अवसर पर विवेक जौहरी, विकास आर्य, पंडित मुनेंद्र आर्य, सर्राफ प्रदीप गोयल,शुभम गोयल, संजीव गोयल आदि मौजूद रहे।