देश की मोदी सरकार कोविड 19 के अपराधिक कुप्रबंधन की दोषी हैं, विगत् 134 दिनों में वैक्सीनेशन की औसत गति लगभग 16 लाख खुराक प्रतिदिन हैं-कांग्रेसजन

बाराबंकी। देश की मोदी सरकार कोविड 19 के अपराधिक कुप्रबंधन की दोषी हैं, विगत् 134 दिनों में वैक्सीनेशन की औसत गति लगभग 16 लाख खुराक प्रतिदिन हैं। इस गति से पूरी वयस्क जनसंख्या को वैक्सीन लगाने में तीन साल से ज्यादा समय लग जायेंगा और हम देश की नागरिकों को कोरोना की तीसरी लहर से कैसे बचा पायेंगे क्योंकि उग्र कोविड 19 महामारी में वैक्सीनेशन ही एक मात्र सुरक्षा का उपाय हैं। देश की आवाम महामारी से सुरक्षित रहे इसके लिये देश के महामहिम राष्ट्रपति महोदय आवाम हित में मोदी सरकार को एक दिन में एक करोड़ लोगों को प्रतिदिन युनिवर्सल मुफ्त वैक्सीनेशन लगाये जाने के निर्देश दें। उक्त मांग जनपद के कांग्रेसजनों ने देश के महामहिम को जिलाधिकारी के माध्यम से प्रतिदिन एक करोड लोगों को वैक्सीनेशन सुनिश्चित करने तथा हर नागरिक को मुफ्त वैक्सीनेशन लगवाने सम्बन्धित ज्ञापन अपर जिलाधिकारी को जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मो. मोहसिन की अगुवाई में सौंप कर की। महामहिम को प्रेषित ज्ञापन में कांग्रेसजनो ने देश की मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए लिखा हैं कि मोदी सरकार की वैक्सीनेशन की रणनीति भारी भूलों की एक खतरनाक काॅकटेल हैं। भाजपा सरकार ने वैक्सीनेशन योजना बनाने में अपने कर्तव्य को भुला दिया हैं, केन्द्र सरकार ने एक वैक्सीन की अलग-अलग कीमत तय करके आम आदमी को आपदा में लूटने का प्रयास किया हैं। ज्ञापन में कांग्रेसजनों ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए लिखा हैं कि इस विकराल महामारी के बीच जब देश के नागरिक कोरोना संक्रमित हो रहे थे तो देश की मोदी सरकार वैक्सीन का निर्यात करने में व्यस्त थी और आज तक वैक्सीन की 6.63 करोड़ खुराक दूसरे देश को निर्यात कर चुकी हैं। मोदी सरकार द्वारा सीरम इंस्टीट्यूट की कोवीशील्ड वैक्सीन की अलग-अलग कीमत तय करके मुनाफाखोरी का उदाहरण दिया हैं। मोदी सरकार के लिये एक खुराक वैक्सीन की कीमत 150 रू. राज्य सरकारों के लिये 300 रू. और निजी अस्पतालों के लिये उसी वैक्सीन की कीमत 600 रू. तय की गयी हैं, इसी तरह भारत बायोटेक की कोवैक्सीन की एक खुराक की मोदी सरकार के लिये कीमत 150रू. राज्य सरकार के लिये 600 रू. तथा निजी अस्पतालों के लिये 1200 रू. हैं। महामहिम से अनुरोध करते हुए कांग्रेसजनो ने ज्ञापन में लिखा हैं कि आज जरूरत हैं कि केन्द्र सरकार वैक्सीन खरीद कर राज्य सरकार तथा निजी अस्पतालों को निःशुल्क वितरित करें ताकि वह देश के नागरिकों को मुफ्त लगाई जा सके तथा 31 दिसम्बर 2021 तक या उससे पहले 18 साल से अधिक आय की पूरी वयस्क जनसंख्या को वैक्सीन लगाने का काम पूरा हो सके और आवाम कोरोना की तसरी लहर आने पर सुरक्षित रह सके इसके लिये सरकार को एक दिन में 1 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाये जाने के निर्देश देने का कष्ट करें। कांग्रेस अध्यक्ष मो. मोहसिन के साथ अपर जिलाधिकारी के यहां ज्ञापन प्रेषित करने वालों में मुख्य रूप से नगर अध्यक्ष राजेन्द्र वर्मा फोटोवाला, प्रवक्ता सरजू शर्मा, श्रीमती गौरी यादव, रामहरख रावत, संजीव मिश्रा, रमेश कश्यप, फरीद अहमद, फरजाना खाान, रवि यादव, पुत्तूलाल वर्मा, मो. सलमान खान, श्यामू बाजपेयी, चन्दन आदि कांग्रेसजन थें।