झारखंड CM हेमंत सोरेन के ट्वीट पर विवाद, बाबूलाल मरांडी ने कहा

झारखंड: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के एक ट्वीट पर विवाद शुरू हो गया है. हेमंत सोरेन ने गुरुवार की रात एक ट्वीट कर कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें कॉल किया था, लेकिन उन्होंने साथ में तंज कसते हुए यह भी कहा कि 'पीएम मोदी ने बस अपने मन की बात की, काम की बात नहीं की और न सुनी.' उनके इस ट्वीट को लेकर भारतीय जनता पार्टी के कुछ नेताओं ने उनपर हमला किया है.

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड में नेता प्रतिपक्ष बीजेपी नेता बाबूलाल मरांडी ने ट्वीट कर उनके इस ट्वीट की आलोचना की है. उन्होंने एक ट्वीट कर सोरने के फेल मुख्यमंत्री बताया और चेतावनी दी कि 'घड़ी की सुई टिक-टिक कर रही है.'

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, 'हेमंत सोरेन एक फेल मुख्यमंत्री हैं. गवर्नेंस में फेल हैं. कोविड से लड़ने में फेल हैं. लोगों की मदद करने में फेल हैं. अपनी असफलता छिपाने के लिए वो अपने ही ऑफिस की मर्यादा कम कर रहे हैं. जाग जाइए और काम करिए, मिस्टर सोरेन, घड़ी की सुई टिक-टिक कर रही है.'

सोरेन के ट्वीट पर असम बीजेपी के नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा ने भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि सोरेन ने अपने पद की गरिमा खो दी है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'आपका यह ट्वीट न सिर्फ़ न्यूनतम मर्यादा के ख़िलाफ़ है बल्कि उस राज्य की जनता की पीड़ा का भी मजाक़ उड़ाना है जिनका हाल जानने के लिए माननीय प्रधानमंत्री जी ने फ़ोन किया था. बहुत ओछी हरकत कर दी आपने. मुख्यमंत्री पद की गरिमा भी गिरा दी.' वहीं, कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने सोरेने के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कहा कि 'यह एक गम्भीर चिंता का विषय है कि ऐसे नाज़ुक समय में भी प्रधानमंत्री सिर्फ़ बोलना चाहते हैं, सुनना नहीं.'