कैसे करें डिहाइड्रेशन की पहचान? यहां जानें लक्षण और उपचार

पानी जहां शरीर को डिहाइड्रेशन की समस्या से बचाता है, वहीं शरीर के कुछ अंगों को ऑक्सीजन पहुंचाने में भी मदद करता है। इसलिए सर्दी हो या गर्मी, पानी को पर्याप्त मात्रा में पीना बहुत जरूरी है। दिन में 8 से 9 गिलास पानी का सेवन हर व्यक्ति को करना चाहिए। पानी कम पीने से डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है। यह समस्या किसी भी उम्र के व्यक्ति हो सकती है। सही समय पर इलाज न मिलने पर यह जानलेवा साबित हो सकती है। अक्सर लोग डिहाइड्रेशन के लक्षणों को पहचान नहीं पाते। इसलिए आज हम आपको डिहाइड्रेशन के लक्षण के बारे में बताएंगे जिससे पहचानकर आप सही समय पर इलाज करवा सकते हैं। 

क्या है डिहाइड्रेशन?

हमारे शरीर का 70 प्रतिशत हिस्सा पानी से बना है। ऐसे में जब शरीर को पर्याप्त पानी और तरल पदार्थ न मिले तो डिहाइड्रेशन की समस्या होने लगती है। यह समस्या हल्की भी हो सकती है लेकिन अगर शरीर में पानी की कमी हो जाएं तो यह गंभीर भी हो जाती है। 

डिहाइड्रेशन के लक्षण

ज्यादा पेशाब ना आना

जब आप ज्यादा पानी पीते हैं तो आधे घंटे या 2 घंटे के बीच में आपको बाथरूम जाना पड़ता है। मगर, यदि 6 से 8 घंटों तक पेशाब न आए तो समझ जाएं यह डिहाइड्रेशन का लक्षण है। 

सिरदर्द

शरीर में अगर पानी की कमी हो जाए तो सिरदर्द होने लगता है। यह भी डिहाइड्रेशन के लक्षणों में से एक है। दिमाग द्रव की झिल्ली में होता है जो खोपड़ी को शांत रखता है। झिल्ली में पानी की कमी के कारण द्रव की मात्रा कम हो जाने पर सिरदर्द होने लगता है। 

ड्राई स्किन

यह बात हर कोई जानता है कि फिट और ग्लोइंग स्किन के लिए पानी कितना जरूरी है। शरीर में पानी की कमी होने से त्वचा ड्राई होने लगती है और होंठ फटने की समस्या का सामना करना पड़ता है। कई बार तो त्वचा पर लाल रंग के रैशेज की समस्या हो जाती है। 

मांसपेशियों में ऐंठन

पानी की कमी से मांसपेशियों में ऐंठन की समस्या होने लगती है। जो कि गंभीर भी हो सकती है।

बुखार आना

डिहाइड्रेशन होने पर आपको बुखार भी आ सकता है और साथ ही ठंड भी लगने लगती है। बुखार बहुत ज्यादा है तो डॉक्टर को तुरंत दिखाना चाहिए क्योंकि यह गंभीर रुप भी ले सकता है। 

फूड क्रेविंग

शरीर को हैल्दी और लिवर को सही रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी की जरूरत होती है। पानी ज्यादा न पीने पर दिमाग आपको संकेत देने लगता है कि शरीर को खाने की जरूरत है। जिस वजह से मीठा खाने की इच्छा होती है। 

डिहाइड्रेशन से कैसे बचें?

-  पर्याप्त मात्रा में पानी या फिर तरल पदार्थो का सेवन करें। 

- धूप में ज्यादा समय तक न रहें। 

- कॉफी, दूध जैसे पदार्थो का सेवन कम करें। इससे शरीर में पानी की मात्रा कम हो जाती है। 

- छोटे बच्चों को पानी पिलाते रहें। चाहें तो पानी में ओआरएस का घोल भी दे सकते हैं।

- उन फलों का सेवन करें जिनमें पानी की मात्रा ज्यादा होती है। 

- नारियल पानी और नींबू पानी का सेवन डिहाइड्रेशन में फायदेमंद है। 

posted by -दीपिका पाठक