कोरोना का खौफ! कई राज्यों में कड़ी पाबंदियों का ऐलान, जाने मामले से जुड़ी बड़ी बातें

नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस के नए मामलों और महामारी से हो रही मौतों के आंकड़े में कमी आते हुए नहीं दिख रही है. महाराष्ट्र में शुक्रवार को 54,000 से ज्यादा मामले दर्ज किए. इस दौरान, बीते 24 घंटे में करीब 900 लोगों की घातक वायरस की वजह से जान चली गई. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी कोरोना से हाल बेहाल है. दिल्ली में कोविड-19 के 19,832 नए मामले आए जबकि 341 मरीजों की मौत हुई. कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए कर्नाटक, केरल समेत कई राज्य लॉकडाउन जैसे सख्त कदम उठाने के लिए मजबूर हुए. 

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

कोविड-19 महामारी से गंभीर रूप से जूझ रही राजधानी दिल्ली (Delhi) में पिछले 24 घंटे के दौरान संक्रमण के 19,832 नए मामले सामने आए जबकि इस दौरान 341 मरीजों की मौत हो गई. कोरोना संक्रमण की दर लगातार दूसरे दिन 25 प्रतिशत से कम रही और 24.92 प्रतिशत हो गयी है. दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक पिछले पांच दिनों में यह चौथी बार है जब कोरोना के नए मामलों की संख्या 20 हजार से कम रही है. 

महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोविड-19 के 54,022 नए मामले आने से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 49,96,758 हो गयी. संक्रमण से 898 मरीजों की मौत हो गयी. राज्य में अब तक 74,413 लोगों की मौत हो चुकी है. महाराष्ट्र में एक दिन पहले यानी गुरुवार को संक्रमण के 62,194 मामले आए थे. राज्य में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 6,54,788 है. 

मुंबई में संक्रमण के 3040 नए मामले आए तथा 71 और मरीजों की मौत हो गयी. पुणे, नासिक, कोल्हापुर और सांगली जिलों में चारों शहरों की तुलना में ग्रामीण इलाके से संक्रमण के ज्यादा मामले आ रहे हैं. 

केरल में कोविड-19 के प्रसार को रोकने के उद्देश्य से शनिवार सुबह से लागू किए जा रहे नौ दिवसीय लॉकडाउन के दौरान सबरीमला स्थित भगवान अयप्पा मंदिर सहित सभी बड़े मंदिर श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेंगे. हालांकि मंदिरों में दैनिक पूजा-अर्चना संबंधी रस्में जारी रहेंगी. बता दें कि दिल्ली, महाराष्ट्र, बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश समेत अन्य राज्य पहले ही कड़े प्रतिबंधों का ऐलान कर चुके हैं.

मिजोरम सरकार ने कोविड-19 की रोकथाम के लिए 10 मई सुबह चार बजे से सात दिवसीय पूर्ण लॉकडाउन लागू करने की शुक्रवार को घोषणा की. 17 मई तड़के चार बजे तक पूर्ण लॉकडाउन लागू रहेगा और राजधानी तथा जिला मुख्यालय कस्बों में किसी भी निवासी को अपने घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी. इन कस्बों में आवश्यक वस्तुओं, सब्जी, और मांस की दुकानें केवल बृहस्पितवार शाम पांच बजे तक ही खुली रहेंगी. 

मणिपुर सरकार ने शनिवार यानी आज से सात जिलों में नौ दिन के लिए 24 घंटे का कर्फ्यू लागू करने की घोषणा की है.  इन जिलों में आठ से 17 मई तक कर्फ्यू लागू रहेगा जबकि राज्य के अन्य हिस्सों में शाम सात से सुबह पांच बजे तक रात्रि कर्फ्यू रहेगा.

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा ने कोविड-19 के मामलों में बेतहाशा बढ़ोतरी को देखते हुए राज्य में दस मई से 24 मई तक के लिए लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लगाने की शुक्रवार को घोषणा की. मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘कोविड-19 की दूसरी लहर ने राज्य भर में डर का माहौल पैदा कर दिया है और कोरोना कर्फ्यू से उम्मीद के मुताबिक संक्रमण दर या मृत्यु दर कम करने में मदद नहीं मिल पा रही है.''

उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना संक्रमण से 372 मरीजों की मौत हो गई और जबकि प्रदेश में संक्रमण के 28,076 नये मामले सामने आये. अब तक इस संक्रमण से 14,873 लोगों की मौत हो चुकी है. पिछले 24 घंटे में 28,076 नये मरीज मिलने के बाद अब तक हुए कुल संक्रमितों का आंकड़ा 14,53,679 हो गया है. राज्‍य में कुल 2,54,118 संक्रमित उपचाराधीन हैं. 

दिल्ली में कोरोना के कहर के बीच ऑक्सीजन का संकट बना हुआ है. कम से कम चार निजी अस्पतालों ने शुक्रवार को चिकित्सीय ऑक्सीजन की कमी को लेकर अधिकारियों को त्राहिमाम संदेश (एसओएस) भेजा. मयूर विहार स्थित कुकरेजा अस्पताल, तुगलकाबाद औद्योगिक क्षेत्र में स्थित बत्रा अस्पताल, पूसा रोड स्थित सर गंगाराम-कोलमेट अस्पताल तथा कालकाजी स्थित आईरीन अस्पताल ने एसओएस भेजा. 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने अमेरिका के स्वास्थ्य और मानव सेवा मंत्री जेवियर बेसेरा से बात की. बातचीत के दौरान दोनों नेताओं कोविड-19 महामारी के कारण भारत-अमेरिका के समक्ष उत्पन्न चुनौतियों का जिक्र किया. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि दोनों देशों के मंत्रियों के बीच हुई इस बातचीत में कोविड-19 महामारी के दौरान वैश्विक चुनौतियों के संबंध में चर्चा हुई और द्विपक्षीय सहयोग पर निकटता से काम करने की प्रतिबद्धता जताई गई.