जम्मू-कश्मीर में कोरोना, संतुलित दिनचर्या के पालन से भागेगा कोरोना

जम्मू : कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जम्मू-कश्मीर प्रशासन की तरफ से कोरोना कर्फ्यू लागू किया गया है। ऐसे में कोरोना संक्रमण से बचाव के साथ-साथ व्यापार व नौकरी में हो रहे नुकसान से कब उबरेंगे। यह सोच भी लोगों को तनाव ग्रसित कर रही है। संतुलित आहार, विहार और विचार से हम खुद को व अपने करीबियों को इस मुश्किल वक्त से निकाल सकते हैं।

आयुर्वेदिक डॉ. सुशील शर्मा के अनुसार सरकार व स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जो स्वास्थ्य निर्देशावली जारी की गई हैं। उसका अगर हम कड़ाई से पालन करें तो कोरोना संक्रमण से बचाव हो सकता है। इसके बावजूद अगर किसी को संक्रमण हो भी जाए तो वह संतुलित आचार, विचार से उससे पार पा सकता हैं। पेट, छाती और फेफड़ों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए हमें खाने पीने से लेकर व्यायाम, योग व सोने व जागने तक में संयम व संतुलित दिनचर्या का पालन करना है।

डॉ. सुशील ने कहा कि कोरोना काल में तेल व घी से बने हुए पदार्थों का सेवन कम करना चाहिए। ऐसे खाद्य पदार्थ पचने में काफी समय लगाते हैं। सब्जियों में तोरी, लौकी, गाजर, टिंडे जैसी सब्जियां लेनी चाहिए। इन सब्जियों का सूप बनाकर भी ले सकते हैं। योग व व्यायाम को दिनचर्या में नियमित रूप से अपनाना चाहिए। इससे आप स्वस्थ रहेंगे। दिमाग से बुरे विचारों को निकाल देना चाहिए। मैं स्वस्थ हूं और दूसरों को भी स्वस्थ रखने में अपने सामर्थ्य का प्रयोग करूंगा। इस भावना को अपने मस्तिष्क में बनाए रखना है। इससे कोई भी तनाव आपके आसपास भी नहीं आएगा।