॥ मुलाकात ॥

कुछ पल की ये तेरी मुलाकात

पूनम की खूबसूरत ये रात

चाँदनी भी देख मुस्कुराये

ये पल जीवन में यादगार बन जाये


कुछ पल की ये तेरी मुलाकात

खट्टी मीठी बन जाये ये याद

कुछ तुम कहना कुछ हम कहते

तेरी बाँहों में गुजर जाये ये रात


कुछ पल की ये तेरी मुलाकात

जीवन में बन जाये यादों की रात

पलकों में बिठा कर ले जाऊँ

दुल्हन बना माँग सजा जाऊँ


कुछ पल की ये तेरी मुलाकात

बहकाये मुझे तेरी अदा पे आज

मत शरमाओ तुम मेरे हमदम

तेरी जुल्फों में बीत जाये ये रात


कुछ पल की ये तेरी मुलाकात

दिल को ठंडक देती है आज

चन्दन सी तेरी बदन की खुशबू

महकाये गुलशन को अब दिन रात


कुछ पल की तेरी ये मुलाकात

पपीहा गाये प्यार की हो बरसात

पूरवईया संगीत बजाये जब जब

जवाँ चमन गाये गीत दिन रात


उदय किशोर साह

मो० पो० जयपुर जिला बाँका बिहार

9546115088