प्रार्थना (अतुकांत)

याचना नहीं है प्रार्थना

मनोकामनाओं की सूची

ईश्वर को परोसना

हाथ जोड़ मन्नतें करना

नही है प्रार्थना।

प्रार्थना है अंतस

के उद्गार

सौंपना स्वयं को

परमेश्वर के हाथों में

अविरल बहती भक्ति धार

जो पहुचाये मोक्ष शिखर के द्वार।

प्रार्थना भक्ति का मोहक पुष्प

जिसके पार व परे कुछ नहीं

बस ईश्वर भक्ति की

मोहक महक है प्रार्थना।

उत्सव है हमारे अस्तित्व का

परमेश्वर को समर्पित भाव

जो हो मूक

पर पहुँचे

परमेश्वर के

हृदय तल तक।

मांगना, सिर्फ मांगना

सर झुका के

कर जोड़ना

नहीं है प्रार्थना।


कवयित्री :-गरिमा राकेश गौत्तम

पता:-खेड़ली चेचट कोटा राजस्थान