स्वाति और इंद्रेश के प्यार भरे पल एण्डटीवी पर

एण्डटीवी के शो ‘संतोषी माँ सुनाये व्रत कथायें’ के आगामी एपिसोड में दर्शकों को उनके चहेते कलाकार स्वाति (तन्वी डोगरा) और इन्द्रेश (आशीष कादियन) के बीच का एक खुबसूरत और अद्भुत रिश्ता देखने को मिलेगा। जहाँ एक तरफ दोनों अपने पहले बच्चे के आगमन को लेकर बेहद उत्साहित हैं, वहीं दूसरी तरफ देवी पाॅलोमी (सारा खान) और उसकी बुरी ताकतों का डटकर सामना कर रहे हैं। जब स्वाति और इन्द्रेश संतोषी माँ के आश्रम जा रहे होते  हैं , तो उनकी कार दुर्घटनाग्रस्त हो जाती है और उन्हें पास के एक रिसोर्ट में रुकना पड़ता है। एक-दूसरे के लिए बेइंतहा प्यार और उनके ये खुशनुमा पलों को देखकर दर्शक भी रोमांचित हो जायेंगे। स्वाति के इस नए रूप को देखकर दर्शक भी हैरान रह जायेंगे। अपने इस नए अवतार को लेकर तन्वी डोगरा उर्फ स्वाति बताती हैं “स्वाति और इंद्रेश का रिश्ता बहुत ही खास है। एक-दूसरे को खुश करने के लिए वो किसी भी हद तक जा सकते हैं। दर्शकों को उनका यह प्यार और त्याग बहुत ही सच्चा और पवित्र लगता है। सच्चाई पर चलने वाली और दूसरों भला सोचने वाली स्वाति को हम एक नए रूप में देखेंगे। ज्यादातर साड़ी और बिंदी में दिखने वाली स्वाति अब नए एक अंदाज में दिखेगी। उसके कपड़े और एसेसरीज और भी ज्यादा खूबसूरत नज़र आयेंगे। स्वाति के इस नए अवतार को देखकर दर्शक रोमांचित हो जायेंगे।‘‘ इस सुंदर से रिसोर्ट में दोनों अपने क्वालिटी टाइम का आनंद लेते हुए नजर आयेंगे। आशीष कादियन उर्फ इन्द्रेश कहते हैं, “देवेश (धीरज राय) का आतंक और बबली की चालाकियों की वजह से स्वाति को हमेशा मुश्किलों का सामना करना पड़ता है, इसलिए इन्द्रेश उसे बहुत सारा प्यार देना चाहता है। उसे अच्छा महसूस कराना चाहता है। जब दोनों साथ वक्त गुजारते हैं वे पल काफी खूबसूरत हैं। इन्द्रेश एक वफादार पति है जो हर वक्त अपनी पत्नी के आस-पास रहना चाहता है। हमारी ऑनस्क्रीन केमिस्ट्री दर्शकों को बहुत पसंद आएगी। इन्द्रेश और स्वाति के रिश्ते में देवी पौलोमी कब और क्या मुश्किलें पैदा करेगी यह देखना दर्शकों के लिए बहुत मजेदार रहेगा। देवी पौलोमी हमेशा अपनी चालाकियों के साथ तैयार रहती है, इस बार इन दोनों के लिए वह क्या तबाही लेकर आएगी यह देखना रोचक होगा। स्वाति को बार-बार सपने आते हैं और वह बबली की रूह को देखती है। आखिर स्वाति को अपनी मरी हुई हमशक्ल क्यों नज़र आ रही है?

देखिये, ‘संतोषी माँ सुनाये व्रत कथायें‘, सोमवार से शुक्रवार रात 9.30 बजे सिर्फ एण्डटीवी पर