झारखंड पुलिस ने मास्क न पहनने वालों से प्रशासन ने वसूले 35 लाख

झारखंड : झारखंड पुलिस ने लॉकडाउन के नियमों को तोड़ने वालों के खिलाफ अभियान चला रखा है। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने वालों से राज्य की पुलिस ने 35.68 लाख रुपये की वसूली की है, जिसमें सबसे ज्यादा 5.92 लाख रुपये की वसूली जमशेदपुर में की गई है। झारखंड के डीजीपी ने बताया कि इस दौरान प्रदेश भर में मास्क नहीं पहनने पर 42,714 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई और उल्लंघन के 71 मामले दर्ज किए गए हैं।

झारखंड पुलिस लॉकडाउन के प्रावधानों का कड़ाई से पालन करवा रही है और सार्वजनिक स्थानों पर मास्क नहीं पहनने वाले लोगों से जुर्माना वसूल रही है। राज्य के पुलिस महानिदेशक नीरज सिन्हा ने बताया, ‘मौजूदा पाबंदी के दौरान लोगों की सुरक्षा के प्रावधानों के तहत राज्य की पुलिस ने नियम का उल्लंघन करने वालों से 35.68 लाख रुपये जुर्माना वसूला है।’

डीजीपी सिन्हा ने कहा कि मास्क नहीं पहनने पर 42,714 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई और लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन किए जाने के 71 मामले दर्ज हुए हैं। उन्होंने कहा कि 27 मई तक लॉकडाउन की पाबंदी के तहत पुलिस नियम का उल्लंघन करने वालों से कड़ाई से निपटेगी। उन्होंने जानकारी दी कि राज्य में करीब 60,000 पुलिसकर्मियों में से करीब 7,343 कर्मी ड्यूटी निभाते हुए संक्रमित हुए हैं और 30 की मौत भी हुई है।

डीजीपी सिन्हा ने बताया, ‘पुलिसकर्मियों के लिए सभी पुलिस लाइनों तथा अन्य प्रतिष्ठानों में अलग आइसोलेशन सेंटर भी बनाए गए हैं।’  उन्होंने बताया कि मास्क नहीं पहनने के लिए सबसे ज्यादा जुर्माना राशि 5.92 लाख रुपये जमशेदपुर में वसूल की गई। वहीं, चाईबासा में 5.79 लाख रुपये और धनबाद में 5.24 लाख रुपये वसूल किए गए। रांची, सरायकेला और पलामू में 1.75 लाख रुपये से 3.08 रुपये के बीच जुर्माना राशि वसूल की गई।