देश मे आज से 18+ वाले लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान शुरू, देखे किन राज्यों में लगेगा टीका और कहां बढ़ी तारीख

नई दिल्ली: देशभर में 18 से 44 वर्ष की आयु वर्ग वाले लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान आज से शुरू हो रहा है. टीके की खुराकों की कमी का हवाला देकर कई राज्यों द्वारा एक मई से 18 से 44 आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण शुरू करने में असमर्थता जताए जाने के बीच केंद्र ने शुक्रवार को कहा कि कुछ राज्य जिन्होंने पहले ही उत्पादकों से समन्वय किया था वो निर्धारित तिथि पर अभियान शुरू करेंगे. उसने इस बात पर जोर दिया कि किसी भी नए अभियान को शुरू करने पर उसके गति पकड़ने में वक्त लगता है और टीकाकरण अभियान का यह तीसरा चरण भी समय के साथ लय में आ जाएगा. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राज्य टीका उत्पादकों से खुराकों की खरीद के लिये समन्वय कर रहे हैं और केंद्र आवश्यक सहायता कर रहा है. उन्होंने कहा, “टीकाकरण कुछ राज्यों में 1 मई से शुरू होगा जिन्होंने पहले ही उत्पादकों से समन्वय किया है। किसी भी नयी कवायद या प्रक्रिया को गति पकड़ने में समय लगता है तथा धीरे-धीरे और केंद्र बढ़ जाएंगे. कुछ समय में यह कार्यक्रम स्थिर हो जाएगा.”

क्या आपके राज्य में लगेगा कोविड-19 रोधी टीका

दिल्ली, ओडिशा, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, और पंजाब समेत कुछ राज्यों का कहना है कि उनके पास पर्याप्त खुराक नहीं हैं जिससे वे 18 से 44 आयुवर्ग के लिये टीकाकरण अभियान शुरू कर नहीं कर पाएंगे. 

उत्तर प्रदेश में कल से सात जिलों में 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को आज से कोविड-19 टीका लगेगा. जिन सात जिलों में आज से 18-44 आयु वर्ग के लोगों के टीकाकरण की शुरुआत करेगी जहां पर संक्रमण के नौ हजार से अधिक एक्टिव मरीज हैं, इसके बाद अन्य जिलों में भी इस आयुवर्ग के लोगों के टीकाकरण की शुरुआत होगी. जिन सात जिलों में टीकाकरण की आज से हो रही है उनमें लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर, मेरठ और बरेली शामिल हैं. 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 18 से 44 वर्ष की आयु वाले लोगों से एक मई से कोविड-19 टीकाकरण केंद्रों के बाहर कतार न लगाने की अपील करते हुए शुक्रवार को कहा कि दिल्ली को अभी टीके नहीं मिले हैं.उन्होंने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अगले एक-दो दिनों में करीब तीन लाख कोविशील्ड टीके मिलेंगे और 18 साल से अधिक आयु वाले लोगों के लिए टीकाकरण अभियान शुरू होगा. 

महाराष्ट्र सरकार ने शुक्रवार को घोषणा की कि वह निजी अस्पतालों से कोविड-19 रोधी टीके वापस लेगी और लोगों को ये टीके सरकार संचालित स्वास्थ्य केंद्रों के माध्यम से लगाए जाएंगे. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र के आदेशों के अनुरूप यह निर्णय किया है. उन्होंने कहा, ‘‘महाराष्ट्र सरकार टीकाकरण के लिए निजी अस्पतालों को दिए गए टीकों को केंद्र के आदेशों के अनुरूप वापस लेने जा रही है। इसके बाद ये टीके लाभार्थियों को राज्य संचालित अस्पतालों और केंद्रों के माध्यम से ही लगाए जाएंगे, टोपे ने एक मई से 18-44 आयु समूह के लोगों के टीकाकरण के बारे में कहा, ‘‘हमें टीकाकरण केंद्रों की संख्या कम करने की आवश्यकता है जिससे कि लोगों को रोजना सुगमता से टीके लगाए जा सकें. उन्होंने कहा, टीका विनिर्माताओं ने हमें बताया है कि मई के महीने में महाराष्ट्र को टीकों की 18 लाख शीशियां मिल सकती हैं. 

पश्चिम बंगाल में कोविड-19 टीके की खुराक की कमी के कारण आज से से 18 से 44 साल के लोगों को टीकाकरण शुरू नहीं होगा. राज्य के स्वास्थ्य विभाग में वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 44 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण हालांकि, विभिन्न केंद्रों पर खुराक की उपलब्धता के आधार पर जारी रहेगा. 

कोविड-19 टीका की आपूर्ति पर अनिश्चितता के बीच तमिलनाडु और जम्मू-कश्मीर की सरकार ने 18 से 44 वर्ष तक के लोगों के लिए आज से शुरू होने वाला व्यापक टीकाकरण कार्यक्रम टाल दिया है.  तमिलनाडु सरकार ने कहा है कि राज्य सरकार वर्तमान स्टॉक के साथ पहले से चल रहे टीकाकरण कार्यक्रम को जारी रखेगी. तमिलनाडु के स्वास्थ्य सचिव डॉ. जे. राधाकृष्णन ने कहा, ‘‘कल तक इंतजार करने (और लोगों को निराश करने) के बजाय मैं (अभी) स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि तमिलनाडु ने जो डेढ़ करोड़ टीके की खुराक मांगी थी, वह कब पहुंचेगी इस बारे में अनिश्चितता है.''

अरुणाचल प्रदेश की सरकार ने ‘तकनीकी' कारणों से आज से 18 से 44 वर्ष उम्र के लोगों को कोविड-19 का टीका देने का कार्यक्रम टाल दिया है. राज्य के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के निदेशक डॉ.सीआर खाम्पा ने बताया कि तीसरे चरण का टीकाकरण अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया है। उन्होंने बताया कि सरकार ने अगले आदेश तक तीसरे चरण के टीकाकरण को शुरू करने का कार्यक्रम स्थगित कर दिया है.

राजस्थान में कोरोना वायरस प्रतिरक्षण टीकाकरण का नया चरण आज से शुरू होगा जिसमें 18 से 44 आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण होगा, राज्य के चिकित्सा व स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट ने शुक्रवार देर शाम 5.44 लाख टीके देने की सहमति दे दी.  शर्मा ने बताया कि कंपनी ने पहले राजस्थान सरकार को तीन लाख खुराक देने की सहमति दी थी. उन्होंने कहा कि इसी के मद्देनजर शनिवार से राज्य 35 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को टीका लगाने का काम शुरू किया जाना था. 

ओडिशा सरकार ने शुक्रवार रात को कहा कि वह केवल भुवनेश्वर में 18-44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों के लिए कोविड-19 टीकाकरण का तीसरा चरण एक मई से सांकेतिक तौर पर शुरू करेगी, क्योंकि यह पूरे राज्य में सप्ताहांत बंद का पहला दिन है, इससे पहले दिन में अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य और परिवार कल्याण) पी के महापात्र ने कहा था कि ओडिशा में एक मई से तीसरे चरण के टीकाकरण की शुरुआत नहीं होगी क्योंकि टीके की कमी है. बाद में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग ने ट्वीट कर कहा, ‘‘ कल एक मई से तीसरे चरण को सांकेतिक तौर पर शुरू किया जाएगा. 

आंध्र प्रदेश राज्य के प्रधान सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अनिल कुमार सिंघल ने बताया कि टीके की कमी के कारण एक मई से आंध्र प्रदेश में 18 से 44 वर्ष आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण शुरू नहीं हो सकेगा. उन्होंने कहा कि राज्य को इस आयुवर्ग के दो करोड़ लोगों का टीकाकरण करने के लिए चार करोड़ खुराक की जरूरत है.