ममता बनर्जी के कथित ऑडियो से हुआ विवाद, TMC ने बताया फर्जी

कोलकाता: BJP द्वारा शुक्रवार को एक तथाकथित ऑडियो क्लिप जारी किए जाने के बाद विवाद खड़ा हो गया, जिसमें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सीतलकूची से तृणमूल कांग्रेस (TMC) के उम्मीदवार से कथित तौर पर यह कहती सुनाई देती हैं कि वह CISF की गोली से मारे गए चार लोगों के शवों के साथ रैलियां करें. तृणमूल कांग्रेस ने ऑडियो क्लिप को ‘‘फर्जी'' करार दिया और कहा कि इस तरह की कभी कोई बात नहीं हुई. स्वतंत्र रूप से ऑडियो क्लिप की प्रामाणिकता का सत्यापन नहीं हो सका है, जो चुनाव के पांचवें चरण के मतदान की पूर्व संध्या पर जारी की गया. ममता बनर्जी और सीतलकूची विधानसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार पार्थ प्रतिम राय (Pratim Roy) के बीच टेलीफोन पर हुई कथित बातचीत के अंश जारी करते हुए भाजपा की आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने दावा किया कि ममता बनर्जी अपनी पार्टी के नेताओं से शवों के साथ रैलियां करने की बात कहकर दंगे भड़काने की कोशिश कर रही हैं.

मालवीय ने कहा, ‘‘वह (बनर्जी) अपनी पार्टी के उम्मीदवार से कह रही हैं कि मामला इस तरह का बनाया जाए कि पुलिस अधीक्षक (कूचबिहार) और केंद्रीय बलों के कर्मियों-दोनों को फंसाया जा सके. क्या किसी मुख्यमंत्री से ऐसी उम्मीद की जाती है? वह केवल अल्पसंख्यकों के वोट हासिल करने के लिए भय का माहौल पैदा करने की कोशिश कर रही हैं.''

कूचबिहार जिले के सीतलकूची मतदान केंद्र पर 10 अप्रैल को चौथे चरण के मतदान के दौरान स्थानीय लोगों के कथित हमले और राइफल छीनने की कथित कोशिश के बाद केंद्रीय बलों की गोलीबारी में चार लोग मारे गए थे. भाजपा के सूत्रों ने कहा कि पार्टी ऑडियो क्लिप के मुद्दे पर निर्वाचन आयोग जाएगी. तथाकथित ऑडियो में बनर्जी राय से यह कहती सुनाई देती हैं कि मतदान खत्म होने तक गुस्सा शांत रखें.

वह कथित तौर पर यह कहती सुनाई देती हैं, ‘‘घबराइए मत. आप अगले दिन शवों के साथ रैली करने के इंतजाम करें और वकील से विमर्श करें तथा पुलिस में शिकायत दर्ज कराएं जिससे कि न तो एसपी बच सके और न ही आईसी.'' सीतलकूची से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार ने ऑडियो को ‘‘फर्जी'' करार दिया. उन्होंने कहा, ‘‘इस तरह की बातचीत कभी नहीं हुई. भाजपा पांचवें दौर के मतदान से पहले लोगों को केवल गुमराह करने की कोशिश कर रही है.'' पूर्व में, ममता बनर्जी ने गोलीबारी को नरसंहार करार दिया था और इसे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की साजिश बताया था. बंगाल में आठ चरणों में हो रहे विधानसभा चुनाव के तहत अब तक चार दौर का मतदान हो चुका है और बाकी चरणों का मतदान 17 से 29 अप्रैल के बीच होगा.