MPBSE एमपी बोर्ड 10वीं 12वीं परीक्षा का एडमिट कार्ड हुआ जारी

MP Board 10th 12th Exam Admit Card 2021 :एमपी बोर्ड ने 10वीं 12वीं मुख्य परीक्षा के एडमिट कार्ड जारी कर दिए हैं। मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं या एमपी बोर्ड) ने एडमिट कार्ड mpbse.mponline.gov.in पर अपलोड किए हैं। स्कूलों के प्रिंसिपलों को ये एडमिट कार्ड डाउनलोड कर अपने हस्ताक्षर और मुहर लगाकार छात्रों को देने होंगे। प्रिंसिपल इन्हें अपना आवेदन क्रमांक डालकर डाउनलोड कर सकेंगे। एमपी बोर्ड ने कहा गया है कि इसमें विषय या माध्यम संबंधी कोई त्रुटि होने पर 15 अप्रैल तक तय शुल्क जमा कर एमपी ऑनलाइन से इसमें सुधार कराया जा सकता है। ध्यान रहे कि कोई छात्र खुद से ये एडमिट कार्ड डाउनलोड नहीं कर पाएगा। उसे अपने स्कूल से ही एडमिट कार्ड मिलेगा। एमपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा 30 अप्रैल से 19 मई और 12वीं की परीक्षा 1 मई से 21 मई 2021 तक आयोजित होगी। 

10वीं 12वीं की प्री बोर्ड परीक्षाओं के आयोजन के जुड़े नियम

कक्षा 10वीं एवं 12वीं प्री बोर्ड परीक्षाओं के लिये सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को विद्यालय से प्रश्न पत्र वितरित किये जाएंगे। विद्यार्थी घर ले जाकर यह पेपर हल कर सकेंगे। उन्हें अपनी उत्तर पुस्तिकाएं निर्धारित समय सीमा में स्कूल आकर जमा करनी होंगी। गाइडलाइंस में स्कूल के प्रिंसिपलों से कहा गया है कि वह कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन की स्थानीय परिस्थितियों को ध्यान में रखकर ही 10वीं 12वीं की प्री-बोर्ड परीक्षाएं कराएं। गाइडलाइंस में कहा गया है कि कक्षा 10वीं एवं 12वीं की प्री बोर्ड परीक्षा के लिए टाइम टेबल जारी किया गया था, लेकिन वर्तमान में कोरोना संक्रमण के कारण जिलों में भिन्न-भिन्न परिस्थितियां होने के कारण समय सारणी अनुसार कार्यवाही का बंधन समाप्त किया जाता है। यानी प्रिंसिपलों के लिए अब इस टाइम टेबल का अनुसरण करना जरूरी नहीं। किस पेपर को कब कराना है, वह अपने विवेक से परिस्थितियों को ध्यान में रखकर फैसला लेंगे।

आदेश में कहा गया है कि अब 12 अप्रैल या जिले में जिस दिन भी लॉकडाउन खुले, उस दिन अपने जिले की स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार सभी प्रश्नपत्र व आंसरशीट एक साथ दे दी जाए। स्कूल से प्रश्न पत्र वितरित करने का समय सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक रहेगा। हालांकि प्रिंसिपल अपने स्तर से अलग-अलग कक्षाओं के लिए अलग-अलग समय तय कर सकेंगे। इस दौरान कोरोना बचाव गाइडलाइंस का पालन करना होगा। स्टूडेंट से वापस आंसरशीट लेने के लिए प्रिंसिपल अपने स्तर से तारीख तय करेंगे। प्राचार्य अनिवार्यतः यह सुनिश्चित करेंगे कि 30 अप्रैल तक बीते वर्ष की तरह इस वर्ष भी विमर्श पोर्टल पर ही परीक्षा परिणाम प्रदर्शित किया जाये।

परीक्षा सुबह 8 बजे से 11 बजे तक ली जाएगी।

7.30 बजे उपस्थित होना अनिवार्य

सभी परीक्षार्थियों को परीक्षा केन्द्र के कक्ष में सुबह 7.30 बजे उपस्थित होना अनिवार्य होगा। परीक्षा कक्ष में सुबह 7.45 बजे के बाद किसी भी छात्र को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। परीक्षा शुरू होने के 10 मिनिट के पहले छात्रों को उत्तर पुस्तिका और 5 मिनट के पहले प्रश्न-पत्र दिये जाएंगे। परीक्षा के दौरान कोविड नियमों और शारीरिक दूरी का विशेष ध्यान रखा जाएगा।