IPL के इतिहास में चौथी बार जीरो पर आउट हुए धोनी

सुरेश रैना के पवेलियन लौटने के बाद जब महेंद्र सिंह धोनी लाखों फैन्स की टीवी स्क्रिन पर मैदान पर उतरते दिखाई दिए, तो हर किसी के मन में बस यही चाह थी कि आज माही का बल्ला जमकर चलेगा। धोनी ने अपनी पहली गेंद को जिस तरह से खेला और उसको देखकर लगा कि वह आज अटैकिंग क्रिकेट खेलने का मूड़ बनाकर मैदान पर उतरे हैं। हालांकि, तमाम क्रिकेट प्रेमियों की उम्मीदें अगली ही गेंद पर उस समय धाराशायी हो गई जब आवेश खान की गेंद पर जोर से प्रहार करने के चक्कर में धोनी बिना खाता खोले ही बोल्ड हो गए। माही जब पवेलियन की तरफ लौट रहे थे तो मन में कुछ बड़ा ना कर पाने की कसक उनके चेहरे पर साफ नजर आ रही है। आईपीएल के इतिहास में यह चौथा मौका था जब धोनी बिना कोई रन बनाए आउट हुए। धोनी के शून्य पर आउट होने के बाद फैन्स ने ट्विटर पर तरह-तरह के रिएक्शन दिए। चेन्नई सुपर की पारी के 15वें ओवर की तीसरी गेंद पर आवेश खान ने धोनी को बोल्ड किया, जिसके बाद इस बड़े विकेट का जश्न भी उन्होंने पूरे जोश के साथ मनाया। धोनी इससे पहले साल 2015 में आईपीएल में बिना खाता खोले पवेलियन लौटे थे और तब उनका विकेट हरभजन सिंह ने अपने नाम किया था। हालांकि, धोनी के आउट होने के बाद क्रीज पर आए सैम करन ने पहली ही गेंद से दिल्ली के गेंदबाजों को आड़े हाथों लिया और चौका लगाकर अपना खाता खोला। सैम करन ने महज 15 गेंदों में 34 रनों की पारी खेली। वहीं, पिछले सीजन को मिस करने वाले सुरेश रैना ने 36 गेंदों में 54 रनों की शानदार पारी खेली। जिसके चलते चेन्नई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 7 विकेट के नुकसान पर 188 रन बनाए।