हाई हील पहनने से महिलाओं को गठिया का खतरा, जरा-सी चोट दे सकती है फ्रैक्चर

महिलाओं को खासतौर पर फैशन के मुताबिक चलना अच्छा लगता है। ऐसे में बहुत सी महिलाएं हाई हील्स पहनना पसंद करती है। मगर लंबे समय तक इसे पहनने से आर्थोपेडिक यानी हड्डियों से जुड़ी समस्याएं हो सकती है। असल में, हील पहन कर चलने से हमारे शरीर का सारा वजन पैरों पर पड़ता है। ऐसे में हड्डियों में दरारें आने के साथ कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। तो आइए आज हम आपको लंबे समय तक हील पहनने से होने वाले नुकसान के बारे में बताते हैं...

ऑस्टियोआर्थराइटिस

ऑस्टियोआर्थराइटिस गठिया का एक रुप है, जो हाई हील पहनने से हो सकता है। इसके कारण हड्डियों में दरारें पड़ने लगती है। असल में, हाई हील पहनने से घुटनों व जोड़ों पर तेज दबाव पड़ता है, जो ऑस्टियोआर्थराइटिस होने का कारण बनता है। साथ ही इस समस्या का सामना पुरुषों से कई गुणा ज्यादा महिलाओं को करना पड़ता है। 

फ्रैक्चर और प्लास्टर का कारण

घंटों व लगातार कई दिनों तक हील पहनने से हड्डियों में दरारें पड़ सकती है। साथ ही किसी भी तरह की थोड़ी सी चोट लगने पर भी फ्रैक्चर और प्लास्टर लगने का खतरा बढ़ता है। 

स्पाइन पर असर

लंबे समय तक हाई हील पहनने से एड़ी पर दबाव पड़ता है। इसी के साथ रीढ़ की हड्डी पर भी प्रेशर पड़ता है। ऐसे में पीठ दर्द की शिकायत हो सकती है। साथ ही स्पाइन के खराब होने का खतरा बढ़ता है। 

वजन में असंतुलन

ऊंची हील लंबे समय तक पहनने से वजन अंसतुलन खराब होने का कारण बनता है। ऐसे में ज्वाइंट व हड्डियों पर विपरीत असर हो सकता है। 

बॉडी पॉश्चर बिगड़ने का कारण

हाई हील पहनने से रीढ़ की हड्डी से लेकर पैरों में दबाव बढ़ता है। ऐसे में अक्सर महिलाओं को बैलेंस बनाने में मुश्किल आती है। साथ ही संतुलन बनाने की कोशिश में बॉडी पॉश्चर बिगड़ने का सामना करना पड़ सकता है। 

इन बातों का रखें ध्यान

- लंबे समय तक हील पहनने की जगह बीच-बीच में सिंपल जूते-चप्पल पहनने। 

- सोने से पहले पैरों की गुनगुने तेल से मसाज करें। आप नारियल, जैतून आदि का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

- एक टब में गुनगुना पानी व थोड़ा सा सेंधा नमक मिलाएं। फिर इसमें 10-15 मिनट तक पैरों को डुबोएं। 

- सोने से पहले 1 गिलास गुनगुने दूध में चुटकीभर हल्दी पाउडर मिलाकर पीने से पैरों व एड़ी के दर्द से आराम मिलेगा। 

posted by -दीपिका पाठक