मंडलायुक्त ने किया कोविड एकीकृत नियंत्रण कक्ष का औचक निरीक्षण

बलरामपुर : मंडलायुक्त देवीपाटन मंडल नोडल अधिकारी कोविड एसवीएस रंगाराव द्वारा कोविड-19 रोकथाम एवं बचाव कार्य तथा टीकाकरण के संबंध में कलेक्ट्रेट में बैठक की गई। इस दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा जनपद में कोविड-19 पॉजिटिव केस, हॉटस्पॉट एरिया, कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग,सर्विलांस, टीकाकरण आदि की जानकारी मंडलायुक्त को दी गई। मंडलायुक्त द्वारा अन्य राज्यों से आ रहे प्रवासियों की शत-प्रतिशत कोविड-19 टेस्टिंग किए जाने का निर्देश दिया गया।  मंडलायुक्त द्वारा बस अड्डे पर भी मेडिकल टीम लगाकर टेस्टिंग किए जाने का निर्देश दिया गया। मंडलायुक्त द्वारा शत - प्रतिशत हेल्थ केयर वर्कर व फ्रंटलाइन वर्कर का टीकाकरण किए जाने का निर्देश दिया गया। मंडलायुक्त द्वारा सर्विलांस बढ़ाते हुए शत-  प्रतिशत कांटेक्ट ट्रेसिंग किए जाने का निर्देश दिया गया। उन्होंने ग्राम स्तर व शहरी क्षेत्र में गठित निगरानी समिति को सक्रिय करते हुए कोविड-19 के लक्षण वाले केस कि सूचना निगरानी समिति से प्राप्त किए जाने का निर्देश दिये।मंडलायुक्त द्वारा हॉटस्पॉट क्षेत्र में बैरिकेटिंग किए जाने का भी निर्देश दिया गया। 

मंडलायुक्त द्वारा 11 अप्रैल से 14 अप्रैल तक चलने वाले विशेष से कोविड-19 टीकाकरण अभियान 'टीका महोत्सव' कि समस्त तैयारियां पूर्ण करते हुए अधिक से अधिक लाभार्थियों को कोविड-19 का टीका लगाए जाने का निर्देश दिया गया। मंडलायुक्त ने लक्ष्य के अनुरूप शतप्रतिशत कोविड-19 टीकाकरण किए जाने का निर्देश दिया गया। मंडलायुक्त द्वारा कोविड-19 टीके की उपलब्धता के संबंध में जानकारी ली गई । मंडलायुक्त द्वारा कोविड-19 प्रोटोकॉल का सख्ती से अनुपालन कराए जाने का निर्देश दिया गया,मंडलायुक्त ने कहा कि सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का प्रयोग न करने वाले व्यक्तियों पर जुर्माना लगाया जाए। मंडलायुक्त ने समस्त सरकारी कार्यालयों में कोविड-19 हेल्प डेस्क स्थापित किए जाने का निर्देश दिया गया। मंडलायुक्त द्वारा प्रमुख स्थानों पर पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम के माध्यम से कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुपालन किए जाने प्रति लोगों को जागरूक की जाने का निर्देश दिया गया। 

इस दौरान मंडलायुक्त द्वारा कोविड-19 एकीकृत नियंत्रण कक्ष का औचक निरीक्षण किया गया। मंडलायुक्त द्वारा कंट्रोल रूम के माध्यम से प्रतिदिन होम आइसोलेट पेशेंट से प्रतिदिन दो बार बात कर स्वास्थ्य की जानकारी लिए जाने, निगरानी समिति से प्रतिदिन बात करके लक्षण वाले व्यक्तियों की जानकारी लिए जाने,ग्राम में साफ सफाई की जानकारी लिए जाने का भी निर्देश दिया गया। इस दौरान जिलाधिकारी श्रीमती श्रुति,अपर जिलाधिकारी अरुण कुमार शुक्ल,मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विजय बहादुर सिंह सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।