कोरोना से जूझ रहे लोगों की सहायता नहीं कर पाने की वजह दुखी हुए सोनू सूद, बोले- हम फेल हो गए

 

देशभर में कोरोना वायरस की दूसरी लहर में इस महामारी पे काबू पाना अब बहुत मुश्किल होता हुआ नजर आ रहा है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देख दिल्ली सहित कई राज्यों में एक बार फिर से लॉक कर दिया गया है। वैसे इस बात में जरा भी दोराए नहीं की इस साल कोरोना वायरस अपने इतनी तेजी से पैर प्रसार रहा है कि कि इस पर हमारा हेथ केयर सिस्टम भी नाजुक पड़ता हुआ नजर आ रहा है। वहीं इन दिनों कोरोना से जूझ रहे फिल्मी अभिनेता सोनू सूद अब भी लोगों की मदद करने से पीछे नहीं हट रहे हैं। लेकिन इस दौरान सोनू ने अपने हालिया ट्वीट में बताया कि अब वो कोरोना पीड़ित लोगों की मदद नहीं कर पा रहे हैं। सोनू सूद ने बीती रात को एक ट्वीट करके बताया कि उन्होंने सोमवार को 570 बेड के लिए अनुरोध किया था,जिसमें वो केवल 112 की व्यवस्था ही करा पाए इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि 1477 रेमडिसिविर की रिक्वेस्ट की थी,मगर वो केवल 18 की ही व्यवस्था कर पाए। अपने इस ट्वीट में सोनू ने कहा- हां,हम फेल हो गए ,इसलिए हमारा हेल्थ केयर सिस्टम भी अफसल हो गया। इस दौरान हैरानी वाली बात यह है सोनू सूद पिछले साल ही लोगों की मदद करने में बढ़ चढ़कर अपना योगदान दे रहे हैं। लेकिन आज अभिनेता इस मामले में खुद को असफल बता रहे हैं तो मतबल सोचने वाली बात यह है कि आने वाले समय में क्या ही होगा?जानकारी के लिए बता दें,पिछले साल जब मार्च में देशभर में कोरोना पर काबू पाने के लिए देशभर में लॉकडाउन लगया गया था। तब सबसे ज्यादा परेशान प्रवासी मजदूर ही थे,जिसके बाद सोनू सूद ही एक मात्र ऐसे इंसान थे जो इन मजदूरों के लिए किसी भगवान से कम नहीं थे। दरअसल सोनू सूद से इन लोगों का दर्द देखा नहीं गया तो उनसे जितना हुआ उन्होंने ज्यादा से ज्यादा प्रवासी मजदूरों की मदद की।