विद्युत विभाग की लापरवाही के चलते गेहूं की फसल हुई खाक

इटावा। विद्युत विभाग की लापरवाही से बलरई क्षेत्र में एक किसान की 7 बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। अन्य क्षेत्रीय किसानों में भी विद्युत विभाग के प्रति रोष व्याप्त है।बताया गया है कि बलरई थाना क्षेत्र के अंतर्गत रघुवर दयाल पाठक इंटर कॉलेज के समीप गंभीर सिंह तोमर पुत्र कप्तान सिंह तोमर निवासी नगला तौर का खेत है जिसमें गेहूं की पकी हुई तैयार फसल कटने हेतु खड़ी हुई थी लेकिन दोपहर 2 बजे के आसपास कड़ाके की धूप में तेज हवा चल रही थी इस कारण विद्युत तारों से निकली हुई चिंगारी गेहूं की पकी फसल में जा गिरी और आग लग गई जब तक आसपास के किसानों ने आग बुझाने के लिए संभव प्रयास किए तब तक 7 बीघा फसल जलकर राख हो चुकी थी।क्षेत्रीय किसानों के मुताबिक विद्युत विभाग ने नलकूपों के लिए अलग से लाइन बिछा रखी है गांव गांव के लिए सड़क किनारे से लाइनें बिछी हुई हैं।एक तरफ तो गांव गांव की विद्युत सप्लाई 14 से 16 घंटे कटौती की जा रही है जबकि चिलचिलाती धूप में तेज हवाएं चलने के बावजूद भी नलकूपों वाली विद्युत सप्लाई दोपहर में जारी रखी गई थी जो कहीं न कहीं विद्युत विभाग की लापरवाही को दर्शाता है। इस कारण पीड़ित किसान के 7 बीघा गेहूं की पकी फसल जलकर राख हो गई और किसान का एक लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ है। आखिर इस नुकसान की भरपाई कैसे होगी इस सवाल का जवाब अब विद्युत विभाग के पास नहीं है।