क्षेत्रीय विधायक एवं सीएलपी नेता आराधना मिश्रा मोना बीमारों की मदद में जुटी, विधायक ने पीड़ित परिवारों को शासन से की मुआवजें की मांग

 

गरीबों को शराब परोसने वाले अपराधियों पर हो कड़ी कार्यवाई-प्रमोद तिवारी

लालगंज,प्रतापगढ़: उदयपुर के कटरिया गांव में जहरीली शराब पीने से हुई मौतों को लेकर कांग्रेस विधान मंडल दल की नेता एवं क्षे़त्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना तथा केन्द्रीय कांग्रेस कार्यसमिति के सदस्य प्रमोद तिवारी ने गहरा दुख जताया है। क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना घटना में गम्भीर रूप से बीमार गांव के धर्मेन्द्र सिंह के लखनऊ के डाॅ0 राम मनोहर लोहिया चिकित्सा संस्थान में जारी इलाज की स्वयं देख रेख में जुटी हुई है। इधर केन्द्रीय कांग्रेस कार्यसमिति सदस्य प्रमोद तिवारी ने घटना को लेकर आबकारी विभाग को पूरी तरह से जिम्मेदार ठहराते हुये कहा कि रामपुर दाबी की घटना के बाद भी उन्होने आबकारी विभाग की शह से जिले में पैरलल शराब की अवैध कारोबार के संचालन की बात कही थी। किन्तु सरकार नही चेती और फिर मासूम जिन्दगियों को जहरीली शराब से मौत का शिकार होना पड़ा। प्रमोद तिवारी ने प्रशासन से सवाल दागा है कि उदयपुर की घटना शराब परोसने वाले आरोपी के खिलाफ जिला प्रशासन ने क्या कार्यवाई की। श्री तिवारी ने कहा कि उन्हें डीएम तथा एसपी से शिकायत नही है किन्तु यह स्पष्ट होना चाहिए कि उदयपुर थाना क्षेत्र में शराब से गरीब जिन्दगियों को छीनने  का यह घृणित अपराध आबकारी विभाग की शह पर कैसे बेरोक टोक धड़ल्ले से जारी रहा  और प्रशासन क्यूं खमोश बना रहा। उन्होने प्रशासन से यह भी कहा कि घटना की गम्भीरता को देखते हुए आबकारी विभाग की मिली भगत से दुकान को चिन्हित किया जाय और जिन आरोपियों ने गरीब परिवारों को शराब परोसी उनके खिलाफ कठोरतम कार्यवाई की जाये। सीडब्लूसी मेंम्बर प्रमोद तिवारी ने यह भी कहा कि इस घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों पर सत्ता का संरक्षण प्राप्त रहा है। ऐसे में घटना केा लेकर क्षेत्रीय जनता में आक्रोश भी स्वाभाविक है। श्री तिवारी एवं क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना ने सरकार से गरीब परिवारों को मुआवजा तथा सरकार से जुड़ी प्रत्येक लाभकारी योजना प्रदान किये जाने एवं घटना के जिम्मेदारों के खिलाफ कड़ी कार्यवाई अविलम्ब सुनिश्चित किये जाने पर जोर दिया है। मीडिया प्रभारी ज्ञान प्रकाश शुक्ल के हवाले से जारी बयान में प्रमोद तिवारी एवं विधायक मोना ने लोगों को शराब माफियाओं एवं घटना के सभी दोषियों के खिलाफ शासन स्तर पर कड़ी कार्रवाई का भी भरोसा दिलाया है। वही क्षेत्रीय विधायक आराधना मिश्रा मोना द्वारा इसके पूर्व भी प्रशासन को पत्र लिखकर उदयपुर इलाके में एक बदमाश पर अवैध शराब के कारोबार में संलिप्त होने का आरोप लगाते हुए शिकायत किया था। किन्तु प्रशासन इस पर गम्भीरता नही दिखाई। विधायक मोना ने प्रशासन से कहा कि वह अब तो चेते और मामले की जांच करते हुए अवैध शराब के कारोबार में लिप्त आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्यवाई करे।