ईसीएचएस में इन पदों पर होंगी भर्तियां

देश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूर्व सैनिक अंशदायी स्वास्थ्य योजना (ईसीएचएस) में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार के लिए तत्काल अतिरिक्त भर्तियां करने के आदेश दिए हैं। ईसीएचएस में संचालित 51 स्वास्थ केंद्रों में अनुबंध के आधार पर अतिरिक्त कर्मियों की भर्ती होगी। 

रक्षा मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि सिंह ने मंगलवार को यह निर्णय लिया तथा इस बाबत आदेश भी जारी कर दिए गए हैं। आदेश में कहा गया है कि ईसीएचएस के तहत संचालित 51 क्लीनिकों में अनुबंध के आधार पर अतिरिक्त कर्मियों की भर्ती से रात के समय में भी पर्याप्त चिकित्सा कर्मियों की उपलब्धता सुनिश्चित होगी।

तीन महीने के लिए काम पर रखा जाएगा

मंत्रालय ने कहा कि चिन्हित ईसीएचएस पॉलीक्लिनिक्स के लिए अनुबंध पर भर्ती किए जाने वाले कर्मियों में चिकित्सा अधिकारी, नर्सिंग सहायक, फॉर्मासिस्ट, ड्राइवर और चौकीदार शामिल हैं, जिन्हें स्टेशन मुख्यालय में रात की ड्यूटी के लिए 3 महीने के लिए काम पर रखा जाएगा। 

इन पॉली क्लीनिकों में भर्ती 

जिन ईसीएचएस पॉली क्लीनिकों में कर्मचारियों को बढ़ाया जाएगा, उनमें लखनऊ, दिल्ली कैंट, बेंगलुरु, देहरादून, कोटपुतली, अमृतसर, मेरठ, चंडीगढ़, जम्मू, नयी दिल्ली (लोधी रोड), सिकंदराबाद, आगरा, अंबाला, ग्रेटर नोएडा, कानपुर, गुरुग्राम, होशियारपुर, मोहाली, चंडीमंदिर, प्रयागराज, गाजियाबाद (हिंडन), पठानकोट, जोधपुर, लुधियाना, रोपड़, दानापुर (पटना), खड़की, पालमपुर, बरेली आदि शामिल हैं।

रक्षा मंत्रालय मुस्तैद

बता दें कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए रक्षा मंत्रालय हर स्तर पर जुटा हुआ है। जहां तीनों सेनाएं इस आक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के प्रयासों में सरकार को मदद कर रही हैं, वहीं मंत्रालय ने कई अहम फैसले लिए हैं। इसमें सेवानिवृत्त डाक्टरों की तैनात, रिटायर होने जा रहे डॉक्टरों को दिसंबर तक सेवा विस्तार, रक्षा उपक्रमों एवं आयुध कारखानों की स्वास्थ्य सेवाओं को आम नागरिकों के लिए कोरोना उपचार सेवाओं के लिए शुरू करना शामिल है। इसके अलावा डीआरडीओ कई राज्यों में अस्थायी अस्पताल भी बना रहा है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने हाल में कहा था कि सशस्त्र सेना और रक्षा मंत्रालय महामारी से निपटने में नागरिक प्रशासन को मदद करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।