तामुलपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, बोले- असम को हिंसा, बम-बंदूक का लंबा दौर दिया

Assam Assembly Polls: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम के तामुलपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि असम के लोग विकास के साथ हैं. पीएम मोदी ने कहा कि असम में आप लोगों ने एक बार फिर NDA की सरकार बनाना तय कर लिया है. असम की पहचान का बार-बार अपमान करने वाले लोग, असम के लोगों को बर्दाश्त नहीं. असम को दशकों तक हिंसा और अस्थिरता देने वाले, अब असम के लोगों को एक पल भी स्वीकार नहीं हैं. पूर्व की कांग्रेस की सरकार को निशाने पर लेते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने अपने समय में असम को हिंसा, बम-बंदूक का लंबा दौर दिया. वहीं एनडीए सरकार असम के हर साथी को साथ लेकर शांति और समृद्धि के रास्ते पर आगे बढ़ रही है. 

उन्होंने कहा कि देश में कुछ बातें ऐसी गलत चल रही हैं, अगर हम समाज में भेदभाव करके, समाज के टुकड़े करके अपने वोटबैंक के लिए कुछ दे दें तो दुर्भाग्य देखिए उसे देश में सेक्युलरिज्म कहा जाता है. लेकिन अगर सबके लिए काम करें, बिना भेदभाव के सबको देते हैं तो कहते हैं कि ये कम्युनल हैं. उन्होंने कहा कि हमारा तो मंत्र है सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास है. ये सेक्यूलरिज्म-कम्यूनिज्म के जो खेल चले हैं इसी खेल ने देश का बहुत नुकसान किया है. उन्होंने कहा कि यहां के चाय बागान में काम करने वाले साथियों को भी कांग्रेस ने लंबे समय तक अभाव में रखा था. चाय बागान में काम करने वाले लोगों के लिए सबसे ज्यादा काम एनडीए सरकार ने ही किया है. 

पीएम मोदी ने कहा कि चुनाव अभी चल रहा है, मैंने कल सुना कि कुछ लोगों ने मान लिया है कि वो चुनाव हार चुके हैं और अगली सरकार कैसी बनेगी, सरकार के लोगों ने क्या पहना होगा उन्होंने इसका वर्णन किया. असम का इससे बड़ा अपमान नहीं हो सकता, अभी से 5 साल बाद असम को कब्जा करने की व्यूहरचना चौंकाने वाली बात है.