डीआरडीओ में आठ सौ वैज्ञानिकों की भर्ती की तैयारी

रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर भारत अभियान पर विशेष फोकस बढ़ाने के लिए कई स्तरों पर कार्य हो रहा है। इसी कड़ी में रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) में बड़े पैमाने पर वैज्ञानिकों के रिक्त पदों को भी भरने की तैयारी की जा रही है। डीआरडीओ में वैज्ञानिकों के आठ सौ से अधिक पद रिक्त हैं जिन पर इस साल भर्ती की जाएगी। 

रक्षा मंत्रालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार डीआरडीओ में वैज्ञानिकों के कुल 7773 पद सृजित हैं। इनमें से 6959 पद भरे हुए हैं तथा 814 पद अभी रिक्त हैं। यह कुल संख्या का करीब दस फीसदी है। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि इस साल वैज्ञानिकों की रिक्तियों को भर दिया जाएगा। इसके लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू की जा रही है। हाल में वित्त मंत्रालय ने 434 पदों पर भर्ती की स्वीकृति भी प्रदान कर दी है। बाकी पदों के लिए भी अनुमति हासिल करने की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। 

डीआरडीओ की देश भर में कुल 52 प्रयोगशालाएं हैं। ये भर्तियां अलग-अलग प्रयोगशालाओं में होंगी तथा कई क्षेत्रों के वैज्ञानिकों की भर्ती की जाएगी। बता दें कि डीआरडीओ रक्षा तकनीकों के अलावा आम लोगों के लिए भी उपयोगी जैव प्रौद्यौगिकी आदि में अनुसंधान करता है। हाल में पेश हुई संसदीय समिति की रिपोर्ट में मंत्रालय की तरफ से बताया गया है कि यह भर्तियां सेवानिवृत्त होने वाले वैज्ञानिकों की जगह होने वाली भर्तियों के अलावा होंगी।