देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण बढ़ा पाबंदियों का दायरा, जानिए मामले से जुड़ी अहम बातें

 

कोरोना हुआ आउट ऑफ कंट्रोल, अब UP के इन जिलों में भी लगा नाइट कर्फ्यू

नई दिल्ली: देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच पाबंदियों का दायरा भी बढ़ाया जा रहा है. रविवार को देश में 1 लाख 52 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए. इससे निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों ने नए सिरे से पाबंदियों को लगाना शुरू किया है, साथ ही आज से पूरे देश में टीका उत्सव भी मनाया जाएगा. 11 अप्रैल से 14 अप्रैल तक चलने वाले इस ‘टीका उत्सव’ का उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा लोगों को टीका लगाना है. टीका उत्सव के तहत कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने ज्यादा से ज्यादा संख्या में टीका लगाने की अपील की है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार भारत ने 85 दिन में 10 करोड़ टीके लगाए हैं और वह दुनिया का सबसे तेज टीकाकरण अभियान चलाने वाला देश बन गया है. वहीं दिल्ली में आज से कड़ी पाबंदिया लागू कर दी गई हैं तो महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव आज लॉक़डाउन को लेकर अहम बैठक करेंग. दिल्ली में सभी तरह की सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक एवं धार्मिक सभाओं पर रोक लगा दी है. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की ओर से जारी आदेश के मुताबिक, दिल्ली में सभी कॉलेज, प्रशिक्षण एवं कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे. 

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

देश में कोरोना का प्रकोप हर दिन नया रिकॉर्ड बना रहा है. रविवार को लगातार पांचवें दिन एक लाख से ज्यादा कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार रविवार को सर्वाधिक 1 लाख 52 हजार 878 नए मामले दर्ज किए गए हैं, जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 1,33,58,805 हो गई है. सबसे चिंता की बात ये है कि देश में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 11 लाख के आंकड़े को पार कर गई है. वहीं इस अवधि में 839 मरीजों की मौत हुई है, जिसके बाद कुल मृतकों की संख्या 1,69,275 हो गई है.

उत्तर प्रदेश के 12वीं क्लास तक के सारे सरकारी और ग़ैर सरकारी स्कूल और कोचिंग सेंटर 30 अप्रैल तक बंद किये गए. पहले से तयशुदा परीक्षाएं हो सकती हैं. उत्तर प्रदेश के उन सभी जिलों में जहां रोजाना कोरोना के 100 या उससे ज़्यादा केस मिल रहे हैं या जहां कोरोना के 500 से ज़तद एक्टिव केस हैं वहां रात 9 से सुबह 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लगाया जाएगा. 

दिल्ली में कोविड के बढ़ते मामले और लागू पाबंदियों के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज प्रेस कांफ्रेस कर देश की राजधानी में कोरोना के हालातों को लेकर चर्चा की. उन्होंने कहा कि दिल्ली में पिछले 10 से 15 दिन में बहुत तेजी से कोरोना बढ़ा है. सीएम केजरीवाल के अनुसार दिल्ली में यह चौथी लहर है, इससे पहले हमने सभी लहरों का बहुत अच्छे से मुकाबला किया और सब ठीक हो गया. मार्च के मध्य तक 200 से भी कम मामले रोजाना आने शुरू हो गए थे. और कल के 24 घंटे की जो रिपोर्ट अभी शाम को जारी होगी उसके मुताबिक पिछले 24 घंटे में 10732 मामले सामने आए हैं. 

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने धार्मिक स्थानों पर एक समय में पांच से ज्यादा लोगों की मौजूदगी पर रोक लगा दी है. मुख्यमंंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह यह सुनिश्चित करें कि किसी भी धार्मिक स्थल पर एक बार में पांच से ज्यादा लोग प्रवेश न करें. बता दें कि राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच यह निर्देश दिए गए हैं. प्रदेश में 14 अप्रैल से नवरात्र जबकि 13 अप्रैल से रमजान का महीना शुरू होने की उम्मीद है. इन पर्वों को देखते हुए मुख्यमंत्री के इस फैसले को बहुत ही महत्वपूर्ण माना जा रहा है.  

राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने शनिवार को सख्त पाबंदियों की घोषणा की. मेट्रो, डीटीसी एवं क्लस्टर बसें 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित करने की अनुमति प्रदान की गई है. इसके अलावा शादी समारोह में 50 मेहमान ही शामिल हो सकेंगे. 

दिल्ली सरकार ने कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी के मद्देनजर सभी तरह की सामाजिक, राजनीतिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक एवं धार्मिक सभाओं पर रोक लगा दी है. दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की ओर से जारी आदेश के मुताबिक, दिल्ली में सभी कॉलेज, प्रशिक्षण एवं कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। हालांकि, शैक्षणिक मार्गदर्शन के वास्ते शिक्षकों द्वारा 11वीं-12वीं के छात्रों को स्कूल बुलाने की अनुमति प्रदान की गई है। इनको छोड़कर दिल्ली के बाकी सभी सरकारी एवं निजी स्कूल भी 30 अप्रैल तक बंद रहेंगे. 

कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि के बीच मथुरा जिला प्रशासन ने फैसला किया है कि बिना मास्क पहने जिले के मंदिरों में लोगों को प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने बताया कि मथुरा, वृंदावन, गोवर्धन, बरसाना तथा अन्य मंदिरों में मास्क के बिना किसी को भी प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। मंदिर जाते समय लोगों को कोविड-19 के नियमों का पालन करना होगा. 

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य में कोविड-19 की चिंताजनक स्थिति के मद्देनजर लॉकडाउन लगाने के शनिवार को संकेत दिये और उन्होंने जीवन रक्षा तथा कोरोना वायरस के प्रसार की कड़ी को तोड़ने के लिए सख्त पाबंदियां लगाने की बात कही. राज्य में कोविड-19 के हालात पर चर्चा के लिए डिजिटल तरीके से आयोजित सर्वदलीय बैठक में मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि उनकी सरकार गरीबों, मजदूरों और दिहाड़ी मजदूरों की जीविका का समाधान भी निकालेगी. 

उत्तर प्रदेश में भी गोरखपुर समेत कुछ जिलों में नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है. गोरखपुर जिले में कोविड-19 संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए जिला प्रशासन ने रात का कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है. गोरखपुर, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गृह जिला है. मुख्यमंत्री के निर्देश पर पहले से ही राजधानी लखनऊ समेत कई जिलों में रात्रि का कर्फ्यू लगा दिया गया है.  बांदा शहर में भी शनिवार रात नौ बजे से सुबह छह तक का कर्फ्यू लगा दिया गया है.  बलिया में कोविड-19 के प्रतिदिन बढ़ते मामलों और 500 से अधिक उपचाराधीन मामले होने के बाद कोविड-19 को नियंत्रित करने के लिए जिलाधिकारी अदिति सिंह ने रात नौ बजे से सुबह छह बजे तक जिले में कर्फ्यू लागू कर दिया है.