पूर्व राज्यपाल मध्य प्रदेश श्री लालजी टंडन जी के जन्म दिन पर उन्हें याद किया गया और खिराजे अकीदत पेश किया गया

पूर्व राज्यपाल मध्य प्रदेश श्री लालजी टंडन जी को आज उनके जन्म दिन पर याद किया गया और खिराजे अकीदत पेश किया गया। सल्तनत मंजिल, हामिद रोड, निकट सिटी स्टेशन, लखनऊ के रहने वाले नवाबजादा सैयद मासूम रज़ा, एडवोकेट ने कहा की श्री लालजी टंडन जी हमेशा उत्तर प्रदेश की राजनीति में एक एहम भूमिका निभाते थें। उनके भारत रत्न अवॉर्डी श्री अटल बिहारी वाजपेई जी से बड़े गहरे संबंध थें। श्री लालजी टंडन जी बिहार और फिर मध्य प्रदेश के गवर्नर के पदों पर रह चुके थें। नवाबजादा सैयद मासूम रजा ने आगे कहा की वो युवाओं को हमेशा आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करते थें । वो बहुत ही शांत स्वभाव और रहम दिल इंसान थें। जब वो बिहार के राज्यपाल थें तब में उनसे पटना में मिलने की ख्वाहिश जाहिर की तो उन्होंने मुझे फौरन बुला लिया और यह मीटिंग करीब 30 मिनट तक चली। यह मेरे लिए  एक एहम मीटिंग थी और एक यादगार पल भी था ! मैंने उन्हें फूलों का गुलदस्ता पेश किया और उन्होंने मुझे कुछ किताबें दी।  जब उनका लखनऊ में पटना के राजपाल होने के बाद इस्तेकबास हुआ था तब मुझे भी यह मौका देखने का शरफ हासिल हुआ था। जिसके लिए में उनका और उनके परिवार का तहे दिल से शुक्रगुजार था। उनकी लिखी किताब "अनकहा लखनऊ" की बुक रिलीज फंक्शन थी तब भी उन्होंने और उनके परिवार वालों ने मुझे invitation दिया था। हमलोग ने एक ऐसे इंसान को खो दिया जिसकी भरपाई नामुमकिन है। उनके साथ की यादगार तस्वीरें हमेशा उनकी यादें दिलाती रहेगी !

 नवाबजादा सैयद मासूम रजा, एडवोकेट।

मोबाईल : 9450657131