खूबसूरती में चार-चांद ही नहीं, हेल्थ के भी लाजवाब फायदे देता है गुलाब

गुलाब को जहां पूजा में खास स्थान दिया जाता है, वहीं इसकी महक व खूबसूरती घर की शोभा बढ़ा देती है। यही नहीं, गुलाब खाने में स्वाद भी बढ़ाता है लेकिन गुलाब सिर्फ एक फूल नहीं है बल्कि यह एक बहुत ही उम्दास किस्मब की दवाई भी है। गुलाब में एंटी-बैक्टीरियल, एंटीऑक्सीडेंट, कैल्शियम के अलावा और भी बहुत से औषधीए गुण होते हैं जो सेहत से जुड़ी कई छोटी-बड़ी समस्याओं का हल हैं। यही नहीं, गुलाब सर्दियों में होने वाली कई ब्यूटी प्रॉब्लम्स से भी छुटकारा दिलाते हैं। चलिए आज हम आपको बताते हैं कि गुलाब के फूलों का इस्तेमाल आप अपने सेहत और ब्यूटी के लिए किस तरह कर सकते हैं।

कान दर्द

कान में दर्द होने पर गुलाब की पत्तियों के रस की कुछ बूंदे कान में डालें। इससे राहत मिलेगी।

सीने में जलन

1 कप गुलाबजल और 1/4 संतरे का रस मिलाकर दिन में 2 बार पीएं। इससे सीने में जलन, गले में खराश, जी मिचलाना जैसी परेशानियां दूर होगी।

दुरुस्त पाचन क्रिया

इसकी पंखुडियां पाचन क्रिया को सुधारने का काम करती हैं। इसके अलावा विटामिन ई और ए से भरपूर गुलाब शरीर को बाहरी और अंदरूनी रूप से मजबूती देते हैं। वहीं खाना खाने के बाद गुलकंद खाने से हाजमा ठीक रहता है।

हाथों-पैरों में जलन

शरीर में जलन होने पर या हाथ पैर में जलन होने पर गुलाबजल को चंदन में मिलाकर इसका लेप लगाएं।

वजन घटाए

गुलाब की 10 से 15 पखुंड़ियों को पानी में उबालें। फिर उसमें एक चम्मच शहद और एक चुटकीभर दालचीनी पाउडर मिक्स करके पीएं। सुबह खाली पेट इसका सेवन करने से वजन कम करने में मदद मिलेगी।

मुंह की बदबू करे दूर

गुलाब के फूल, लौंग और चीनी को गुलाब जल में पीस लें। अब भोजन के बाद इसका सेवन करें। यह मुंह की दुर्गंध को दूर करता है।

सिरदर्द के समस्या

चंदन पाउडर, कपूर और गुलाब जल का लेप बनाकर माथे पर लगाएं। इससे सिर का दर्द ठीक हो जाएगा।

माइग्रेन का दर्द

12 ग्राम गुलाब के रस में 1 ग्राम नौसादर मिलाकर मिक्स करें। माइग्रेन दर्द होने पर इसकी 1-2 बूंदें नाक में डालें। इससे आपको आराम मिलेगा।

मजबूत हड्डियां

गुलाब में विटामिन सी बहुत मात्रा में पाया जाता है। गुलकंद रोज खाने से हड्डियां मजबूत हो जाती है। 

गुलाबी होंठों के लिए

सर्दियों में होंठ ड्राई और रूखे-सूखे हो जाते हैं। ऐसे में गुलाब की पत्तियों का रस निकालकर उसमें ग्लिसरीन मिक्स करें। इससे होंठों पर मसाज करें और रातभर के लिए छोड़ दें। सुबह ताजे पानी से साफ करें। इससे होंठ मुलायम व गुलाबी होंगे।

गोरी रंगत

गुलाब की कुछ पंखड़ियों में 3 चम्मच दही डालकर अच्छी तरह पीस कर एक लेप तैयार करें। इसे 20 मिनट तक चेहरे पर लगाने के बाद धोएं जिससे रंगत निखरेगी।

कील-मुंहासों के लिए

गुलाब पंखुड़ियों में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं, जो कील-मुहांसों को दूर करने में मदद करते हैं। इसके लिए ओवरनाइट मेथी के बीज और गुलाबी की पत्तियों को भिगो दें। सुबह पेट बनाकर चेहरे पर लगाएं और 20 मिनट बाद धो लें। इससे मुहांसें दूर हो जाएंगे।

डार्क सर्कल के लिए

कॉटन में गुलाबजल लगाकर उसे आंखों पर 15-20 मिनट के लिए रखें। फिर से पानी से साफ करें। लगातार ऐसा करने से आपके डार्क सर्कल गायब हो जाएंगे।

स्किन ड्राइनेस से छुटकारा

यह त्वचा में ऑयल को नियंत्रित करता है और पीएच बैलैंस बनाए रखता है। विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण गुलाब त्वचा के रुखेपन को दूर करता है। इसके लिए आप गुलाब के फूलों के रस में एसेंशियल ऑयल मिक्स करके लगाएं।

नेचुरल टोनर और फेस पैक

पैन में थोड़ा-सा पानी डालकर उसमें गुलाब की पत्तियों को तब तक उबालें जब तक वह रंग ना छोड़ दें। अब आप इस पानी को टोनर और पत्तियों को फेस पैक की तरह इस्तेमाल करें।

बालों को करें नरिश

गुलाबजल और एलोवेरा जेल को मिक्स करके 10-15 मिनट तक बालों की मसाज करें। फिर इसे 30 मिनट बाद बालों को धो लें। इससे आपके बाल नरिश, स्मूद और शाइनी होंगे। यही नहीं, यह बालों को ड्राई होने से भी बचाएगा।

रुखे व बेजान बाल

बाल धोने से 10 मिनट पहले गुलाब जल और जोजोबा ऑयल को मिलाकर लगाने से यह हेयर ड्रायर के इस्तेमाल से रूखे व बेजान हुए बालों को रिपेयर करता है।

posted by -दीपिका पाठक